संजीवनी टुडे

UP: महिला नेत्री से छेड़खानी में दो भाजपा नेताओं पर गिरी गाज, पार्टी से निष्कासित कर सदस्यता समाप्त की

संजीवनी टुडे 31-05-2020 21:43:02

बीते एक सप्ताह से सुर्खियां बटोर रहे भाजपा के दो छेडखानी के आरोपी नेताओं पर आखिरकार कार्रवाई की गाज गिर ही गई। जिलाध्यक्ष द्वारा गठित की गई जांच समिति की रिपोर्ट में दोनों नेता छेडखानी के दोषी पाए गए हैं।


जालौन। बीते एक सप्ताह से सुर्खियां बटोर रहे भाजपा के दो छेडखानी के आरोपी नेताओं पर आखिरकार कार्रवाई की गाज गिर ही गई। जिलाध्यक्ष द्वारा गठित की गई जांच समिति की रिपोर्ट में दोनों नेता छेडखानी के दोषी पाए गए हैं। इसके बाद जिलाध्यक्ष ने कार्रवाई करते हुए इन्हें पार्टी से निष्कासित कर सदस्यता समाप्त कर दी है। साथ ही भविष्य में इनसे कोई सरोकार न रखने की बात भी कही है।

भाजपा महिला मोर्चा की एक नगर पदाधिकारी ने दस दिन पूर्व जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह बना को एक शिकायती पत्र भेजा था। जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि बीती 15 मई को पार्टी के पदाधिकारी रामू गुप्ता व प्रेमनारायण वर्मा चाय पीने के बहाने उनके घर आए। बातचीत के दौरान इन आरोपियों ने महिला नेत्री की आर्थिक स्थिति का हवाला देते हुए उसे काफी प्रलोभन दिया। लेकिन महिला नेत्री उनके झांसे में नहीं आई। इसके बाद इन नेतााओं ने उसके साथ छेडखानी शुरू कर दी। काफी प्रयास के बाद भी जब बात नहीं बनी तो आरोपी नेता बैरंग वापस लौट आए। 

पार्टी के ही जिम्मेदार नेताओं के इस रवैये से आहत महिला नेत्री ने घटनाक्रम की शिकायत पार्टी जिलाध्यक्ष रामेंद्र सिंह बना से की थी। कुछ दिनों तक तो मामला दबा रहा। लेकिन जब यह बात मीडिया में उजागर हुई और पार्टी की फजीहत होने लगी तो आनन फानन में जिलाध्यक्ष ने इस मामले पर एक तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी और एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा। कमेटी में जिला उपाध्यक्ष देवेंद्र यादव, पूर्व जिला महामंत्री भगवती शरण शुक्ला, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष प्रीति बंसल को शामिल किया गया था।

इस टीम ने जांच में पाया कि महिला नेत्री द्वारा लगाए गए आरोप सही हैं और आरेापी नेताओं ने इस घटनाक्रम को अंजाम दिया है। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद जिलाध्यक्ष रामेंद्र बना ने दोनो नेताओं को तत्काली पार्टी से निष्कासित कर उनकी सदस्यता निरस्त कर दी है। उन्होंने कहा कि अब भविष्य में इन नेताओं से पार्टी का कोई सरोकार नहीं रहेगा और न ही इन्हें पार्टी की कोई भी सूचना प्रेषित की जाएगी।
 

यह खबर भी पढ़े: जयपुर: शहर में चार थाना इलाकों में लगा कर्फ्यू; लॉकडाउन उल्लंघन मामले में 17,090 वाहन जब्त

Sanjeevni Plot Scheme

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended