संजीवनी टुडे

UP: लव जिहाद पर बना कानून आज से लागू, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने दी मंजूरी

संजीवनी टुडे 28-11-2020 12:52:39

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने गैर कानूनी धर्म परिवर्तन अध्यादेश पर मुहर लगा दी है। वहीं, आज धर्म परिवर्तन अध्यादेश को राज्यपाल ने भी मंजूरी दे दी है। इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया गया है।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल ने गैर कानूनी धर्म परिवर्तन अध्यादेश पर मुहर लगा दी है। वहीं, आज धर्म परिवर्तन अध्यादेश को राज्यपाल ने भी मंजूरी दे दी है।  इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया गया है। साथ ही दूसरे धर्म में शादी करने के आवेदन का प्रारूप भी जारी किया गया है। 

उलेखनए है कि उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लव जिहाद को लेकर सख्त है। प्रदेश में में जबरन धर्मांतरण और लव जिहाद के मामलों पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में उ.प्र. विधि विरुद्ध प्रतिषेद अध्यादेश 2020 को मंजूरी दे दी। अब कोई भी व्यक्ति अपना धर्म और पहचान छुपाकर यदि किसी युवती को अपने जाल में फंसाएगा, उससे शादी करेगा और उसका धर्म परिवर्तन कराएगा, तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

कैबिनेट बैठक में पास हुआ था बिल

जानकारी के अनुसार राज्य कैबिनेट की बैठक में इसे लेकर चर्चा हुई। योगी कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव पास हुआ है और लव जिहाद के कानून पर मुहर लग गई है। बैठक में पहले 21 प्रस्ताव पास हुए थे लेकिन धर्मांतरण के मामले पर प्रस्ताव पास नहीं हुआ। बाद में फिर से चर्चा कर प्रस्ताव को पारित किया गया। 

सामूहिक धर्म परिवर्तन पर 10 साल तक की सजा

अध्यादेश में नाम छिपाकर शादी करने वाले के लिए 10 साल की सजा का भी प्रावधान किया गया है। इसके अलावा गैरकानूनी तरीके से धर्म परिवर्तन पर एक से 10 साल तक की सजा होगी। साथ ही 15 हजार तक का जुर्माना भी देना पड़ सकता है। इसके अलावा सामूहिक रूप से गैरकानूनी तरीके से धर्म परिवर्तन करने पर जहां 10 साल तक सजा हो सकती है, वहीं 50 हजार तक जुर्माना भी देना पड़ सकता है। 

यह खबर भी पढ़े: अमेरिका और इजरायल ने भारत को दिया ऐसा हथियार! चीन और पाकिस्‍तान की उड़ी रातों की नींद

यह खबर भी पढ़े: धोखा देने की मिली ऐसी खौफनाक सजा, पत्नी को चल गया पति की प्रेम लीला का पता, उसके बाद हस्बैंड के बांधे हाथ और फिर...

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended