संजीवनी टुडे

उप्र सरकार ने डिफेंस कॉरिडाेर सलाहकार के रूप में लेफ्टिनेंट जनरल जे के शर्मा की नियुक्ति

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 14-08-2019 14:56:54

उत्तर प्रदेश सरकार ने रक्षा गलियारे की आगामी परियोजना के लिए लेफ्टिनेंट जनरल जे के शर्मा (सेवानिवृत्त) की पहले वरिष्ठ रक्षा सलाहकार के रूप में नियुक्ति की है।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने रक्षा गलियारे की आगामी परियोजना के लिए लेफ्टिनेंट जनरल जे के शर्मा (सेवानिवृत्त) की पहले वरिष्ठ रक्षा सलाहकार के रूप में नियुक्ति की है। 

यह खबर भी पढ़े: स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारियों की समीक्षा बैठक, जिला कलक्टर ने दिए निर्देश

आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को यहां बताया कि लेफ्टिनेंट जनरल जे के शर्मा (सेवानिवृत्त) ने वरिष्ठ रक्षा सलाहकार के रूप में नियुक्ति की है। सरकार ने राज्य में निवेश को आकर्षित करने तथा रोजगार के साधन उपलब्ध कराने के लिये कई कदम उठाये है। 

रक्षा गलियारे जैसे महत्वपूर्ण परियोजना के साकार होने से कुशल और अकुशल दोनों क्षेत्र के कारिगरों को रोजगार उपलब्ध होगा। रक्षा गलियारे की आगामी परियोजना के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के पहले वरिष्ठ रक्षा सलाहकार के रूप में पदभार संभाला है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस महत्वपूर्ण परियोजना के लिए एक प्रोत्साहन देने के लिए अधिकारी को विशेष रूप से नियुक्त गया है, जो न केवल भारी निवेश को आकर्षित करने के लिए, बल्कि कुशल और अकुशल दोनों क्षेत्रों में अभूतपूर्व रोजगार उत्पन्न करने की उम्मीद करता है। 

रक्षा विभाग द्वारा यहां जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि लेफ्टिनेंट जनरल जेके शर्मा 42 साल की शानदार सेवा के बाद भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हुए है। वह डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज, कॉलेज ऑफ डिफेंस मैनेजमेंट और नेशनल डिफेंस कॉलेज, भारत के पूर्व छात्र हैं, और फील्ड ऑपरेशन, फाइनेंशियल प्लानिंग और प्रोजेक्ट मैनेजमेंट के क्षेत्र में व्यापक और विविध अनुभव के साथ उत्कृष्ट ट्रैक रिकॉर्ड रखने का श्रेय है। 

स्वदेशी रूप से रक्षा उपकरणों के विनिर्माण का 70 प्रतिशत लक्ष्य पूरा करने के लिए, बड़े पैमाने पर अनुसंधान एवं विकास और विनिर्माण क्षमताओं के विकास के लिए निजी उद्यम को प्रोत्साहित करने की आवश्यकता है। इसलिए भारत में रक्षा क्षेत्र की बढ़ती आवश्यकता को पूरा करने के लिए रक्षा विनिर्माण इकाइयों के उत्पादन स्तर को बढ़ाना और रक्षा विनिर्माण के लिए नई इकाइयों की स्थापना करना आवश्यक है। 

यूपी डिफेंस कॉरिडोर की स्थापना एक ऐसा ही महत्वपूर्ण प्रयास है। उत्तर प्रदेश सरकार रक्षा उत्पादन इकाइयों को रक्षा उत्पादन में सक्रिय भागीदारी के लिए विभिन्न नीतियों और प्रोत्साहनों के माध्यम से सभी आवश्यक सहायता और सहायता प्रदान करेगी। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended