संजीवनी टुडे

अनोखी परम्परा: इस जगह बच्चियां करती हैं पितरों का तर्पण

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 20-09-2019 12:25:24

बुंदेलखंड में पितरों के श्राद्ध की अनोखी परम्परा है जिसके तहत बालिकायें ये काम करती हैं।


महोबा। उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड में पितरों के श्राद्ध की अनोखी परम्परा है जिसके तहत बालिकायें ये काम करती हैं।

हालांकि ये परम्परा अब गांव तक ही सिमट के रह गई है लेकिन सैंकडों साल से जारी ये परम्परा अभी भी जारी है। सैंकडों साल पहले महबुलिया नाम की एक महिला ने इसे शुरू किसा था जो आज भी जारी है। बच्चियां हर रोज गोधुलि वेला में इसे कांटेदार झाड में रंग रंगीले फूलों से सजाती हैं और इसे किसी तालाब या नदी में विसर्जित कर देती हैं।

यह खबर भी पढ़े: एयर वाइस चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया होंगे अगले वायुसेना प्रमुख

विसर्जन के बाद रास्ते में बच्चियां रास्ते में मिलने वाले लोगों को भीगे चने की दाल और लाई प्रसाद में देती हैं।

हर रोज अलग अलग घर से ये पूजा आयोजित होती है। इसका मकसद बच्चियों के महत्व को भी बताना है। घर के बडे बुजुर्गों के इस काम को करने से घर का मार्हाल जहां गमगीन हो जाता हैं वहीं बच्चियों के इसे करने से उत्सव का मार्हाल रहता है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended