संजीवनी टुडे

गुरुवार को बंगाल में रहेंगे केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह

संजीवनी टुडे 17-04-2019 22:46:43


कोलकाता। इस बार लोकसभा चुनाव के लिए पश्चिम बंगाल भाजपा के लिए सबसे चुनौतीपूर्ण गढ़ बन गया है। इसीलिए पार्टी के हरेक दिग्गज सेनापति ममता के मजबूत किले को ढहाने के लिए आ रहे हैं। गुरुवार को एक तरफ राज्य के जलपाईगुड़ी, दार्जिलिंग और रायगंज लोकसभा केंद्रों में चुनाव होगा तो दूसरी और बंगाल में तीन जगहों पर बड़ी जनसभा को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह संबोधित करने के लिए मौजूद रहेंगे। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

पार्टी की ओर से बुधवार रात जारी विज्ञप्ति के मुताबिक राजनाथ सिंह की पहली जनसभा सुबह 10:45 बजे हावड़ा जिले के उलूबेरिया लोकसभा केंद्र के अंतर्गत आमता में होगी। उनकी दूसरी जनसभा मालदा जिले के इंग्लिश बाजार डीएसए ग्राउंड में अपराहन 01:35 बजे से होनी है। जबकि तीसरी जनसभा 2:55 बजे मालदा जिले के ही चांचल में होगी। पार्टी की ओर से यह भी बताया गया है कि आवश्यकता पड़ने पर वह मीडिया से भी बात कर सकते हैं। 

उल्लेखनीय है कि गत 11 अप्रैल को जब कूचबिहार और अलीपुरद्वार लोकसभा केंद्र में पहले चरण का चुनाव संपन्न हुआ था तब कई जगहों पर छिटपुट हिंसा हुई थी। इस बार इस तरह की किसी भी घटना को टालने के लिए चुनाव आयोग ने राज्य के 80% मतदान केंद्रों पर करीब 15 हजार सेंट्रल फोर्स के जवानों को तैनात करने का निर्णय लिया है। बाकी बचे 20% मतदान केंद्रों पर वेब ब्रॉडकास्टिंग और सीसीटीवी कैमरों के जरिए केंद्र और राज्य चुनाव आयोग की टीम सीधी निगरानी रखेगी। बावजूद इसके अगर किसी तरह की कोई घटना होती है तो केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी राज्य भाजपा के लिए बेहद अहम हो जाएगी। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

अभी दो दिन पहले ही तृणमूल कांग्रेस के पक्ष में प्रचार करने वाले बांग्लादेशी अभिनेता फिरदौस अहमद का भारत का कारोबारी विजा केंद्रीय गृह मंत्रालय ने चंद घंटों के अंदर रद्द कर दिया और उन्हें ब्लैक लिस्ट कर भारत के बाहर चले जाने का निर्देश दिया था। फिरदौस बंगाल छोड़कर बांग्लादेश चले गए हैं। उनके खिलाफ भाजपा ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन आयोग कार्रवाई के बारे में प्रावधानों को खंगालता रह गया था जबकि गृह मंत्रालय ने तत्काल कार्रवाई कर दी थी। अब जब गृहमंत्री बंगाल आ रहे हैं तो दूसरे चरण के मतदान के बीच कहीं भी किसी तरह की गड़बड़ी होती है तो यहां उनकी मौजूदगी फोन वारदातों को अंजाम देने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए और अधिक कारगर साबित होगी। 

More From state

Trending Now
Recommended