संजीवनी टुडे

गैरकानूनी बंदूक कारखाने का खुलासा, सात गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 05-04-2019 10:46:06


कोलकाता। कोलकाता के दमदम में स्थित हवाई अड्डे के ठीक पास गैरकानूनी तरीके से चल रहे बंदूक कारखाने का खुलासा हुआ है। यहां से 90 अर्द्ध निर्मित बंदूकें और चार गोलियां बरामद की गई हैं। इसके साथ ही 7 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। इनकी पहचान मोहम्मद सदाकत अंसारी (‍25 साल), सुमन कुमार (25 साल), मोहम्मद टार्जन (‍25 साल), मोहम्मद समीम आलम (‍24 साल), मोहम्मद सोनू (20 साल) के तौर पर हुई है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

बांका जिले के रहने वाले शख्स की पहचान ऋषि कुमार पासवान (‍20 साल) के रूप में हुई है। कारखाने के मालिक का नाम मोहम्मद अली हुसैन उर्फ मुन्ना (‍40 साल) है। इनके पास से ₹88000 रुपये के जाली नोट भी बरामद हुए हैं। शुक्रवार सुबह इस बारे में एसटीएफ के उपायुक्त मुरलीधर शर्मा ने जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि कोलकाता में गुरुवार दोपहर चार लोगों को 30 नाइन एमएम अर्द्ध निर्मित बंदूकों के साथ गिरफ्तार किया गया था। 

इसके बाद उनकी निशानदेही पर हवाई अड्डे के पास स्थित द्रोणनगर के गैरकानूनी कारखाने और इसके मालिक के छोटूगांटी स्थित आवास पर छापेमारी की गई जहां से और 60 अर्द्ध निर्मित बंदूके बरामद की गई हैं। बंदूक कारखाने से दो और मजदूरों तथा मालिक को गिरफ्तार किया गया। इस तरह से कुल 7 लोगों को दबोचा गया है। इसके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 489 बी, 489 सी, 120 बी आर्म्स एक्ट की धारा 25 ए व 25 बी के तहत मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की गई है। इनमें से 5 लोग बिहार के मुंगेर जिले के रहने वाले हैं जबकि एक बांका जिले का निवासी है। ये लोग यहां कारखाने में बंदूक बनाने का काम करते थे। 

अली हुसैन उर्फ मुन्ना वह नारायणपुर थाना अंतर्गत छोटा गांटी गांव का रहने वाला है। वह मुंगेर से बंदूक बनाने वाले मजदूरों को यहां कारखाने में एकत्रित करता था तथा बंदूक बनाने का काम कराता था। गुरुवार देर रात तक छापेमारी कर इन्हें गिरफ्तार और हथियारों की बरामदगी हुई है। इस तरह से छापे के दौरान कुल 90 अर्द्धनिर्मित बंदूकें, लेथ मशीन, मिलिंग मशीन, ड्रिलिंग मशीन आदि बरामद किए गए और जब्त किए गए हैं। सातों से पूछताछ की जा रही है। 

उल्लेखनीय है कि चुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद पूरे देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। सावधानी बरतते हुए केंद्रीय और राज्य एजेंसियां किसी भी तरह के अपराधी वारदात को रोकने के लिए पूरी तरह सजग हो गई हैं। कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स अपनी सजगता के लिए अमूमन चर्चा में रहती है। उसके पहले गत 27 मार्च को भी इसी तरह से एक गैर कानूनी हथियार कारखाने का खुलासा दक्षिण 24 परगना बारुइपुर थाना इलाके में हुआ था। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

राज्य पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रूप ने बासंती इलाके में इस हथियार कारखाने का भंडाफोड़ किया था। उस दिन बासंती के छोटकोला हाजरा ग्राम में तलाशी अभियान चलाया गया था जहां से पुलिस ने छह अर्द्ध निर्मित बंदूकें, 16 राउंड गोलियां, छह मोबाइल फोन और तीन किलो गन पाउडर सहित बंदूक बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाली मशीनें बरामद की थी। वहां से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इसके पहले कुलतली इलाके में भी इसी तरह से बंदूक कारखाने का खुलासा हुआ था। 

More From state

Trending Now
Recommended