संजीवनी टुडे

प्रशासन के रवैया को लेकर परेशान बालू ट्रक मालिकों ने नेता प्रतिपक्ष बाबूलाल मरांडी से की मुलाकात

संजीवनी टुडे 27-02-2020 15:53:32

मुलाकात के दौरान बालू ट्रक एसोसिएशन के सदस्यों ने बाबूलाल मरांडी को वर्तमान में हो रही धांधली से अवगत कराया और उक्त मामले में उन्हें ज्ञापन भी सौंपा।


रांची। अवैध वसूली और प्रशासन के रवैया को लेकर परेशान बालू ट्रक एसोसिएशन के सदस्यों ने गुरूवार को नेता प्रतिपक्ष बाबूलाल मरांडी से मुलाकात की। मुलाकात के दौरान बालू ट्रक एसोसिएशन के सदस्यों ने बाबूलाल मरांडी को वर्तमान में हो रही धांधली से अवगत कराया और उक्त मामले में उन्हें ज्ञापन भी सौंपा।

मरांडी से मुलाकात के दौरान एसोसिएशन के अध्यक्ष दिलीप साहू ने कहा कि बालू नदी से निकालने से लेकर गंतव्य तक पहुंचाने के काम में लाखों मजदूर जुड़े हैं। इसके साथ ही हजारों की संख्या में ट्रक एवं ट्रैक्टर बालू उठाव एवं बालू के परिचालन में लगे रहते हैं। जिनकी रोजी रोटी पूरी तरह से ठप पड़ गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की गलत नीतियों के कारण हमेशा से ट्रक मालिक, ट्रैक्टर मालिक और मजदूरों का शोषण किया जाता रहा है। 

साहू ने बताया कि बालू व्यवसाय से थानों के द्वारा लगातार पैसों की अवैध उगाही भी की जाती रही है। इन्हीं कारणों से बालों ट्रक एसोसिएशन हड़ताल पर चला गया है जिसके कारण एक बड़ा तबका बेरोजगार हो गया है। लेकिन उपरोक्त मामले में मौजूदा राज्य सरकार की ओर से उन्हें कोई बातचीत का प्रस्ताव नहीं मिला है और अब स्थिति यह हो गई है कि ट्रक मालिकों के सामने ट्रकों और ट्रैक्टरों की किश्ती भरने के लिए भी पैसे नहीं है।

इस क्रम में पूरे मामले को सुनने के बाद बाबूलाल मरांडी ने बाबू ट्रक एसोसिएशन के सदस्यों को आश्वासन दिया कि वह यथासंभव मामले में राज्य सरकार से बात करेंगे और कोई ना कोई रास्ता जरूर निकालेंगे। मरांडी ने बालू  ट्रक एसोसिएशन के ज्ञापन को पढ़ने के बाद कहा कि बालू के विषय में हो रही धांधली की उन्हें भी कुछ जानकारी है और वे मजदूरों कि आवाज बनेंगे।

यह खबर भी पढ़े: सैकड़ों वर्षों से परम्परा आज भी कायम: इस गाँव में सिर्फ महिलाएं ही खेलती हैं होली, पुरुष करते हैं काम

यह खबर भी पढ़े: इनकम टैक्स के छापों से डरी कांग्रेस, पार्टी अध्यक्ष ने कहा- पहले क्यों नहीं बताया

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended