संजीवनी टुडे

पीएमसी बैंक शाखाओं से परेशान खाताधारकों ने सौंपा ज्ञापन, कहा- नगद निकासी 40 हजार से...

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 19-10-2019 22:27:31

ज्ञापन सौंपने के बाद संघ के संजय उपाध्याय ने कहा कि बैंक शाखा के नजदीक ट्रांसपोर्ट नगर होने की वजह से ज्यादातर ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों के बैंक खाते इसी बैंक में हैं।


इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर स्थित पंजाब एन्ड महाराष्ट्र कॉपरेटिव बैंक (पीएमसी) की शाखा के बाहर जमा हुए खाताधारकों ने नगद निकासी पर जारी 40 हजार की सीमा को बढ़ाये जाने को लेकर एक ज्ञापन सौंपा हैं।

यह खबर भी पढ़ें: ​कमलेश तिवारी के हत्यारों को 'पाताल' से भी ढूढ़ निकाल कर दिलायी जायेगी कड़ी सजा- योगी

'मध्यप्रदेश ट्रांसपोर्ट महासंघ' के बैनर तले एकत्र हुये एक दर्जन से ज्यादा खाताधारकों ने यहां अशोक नगर स्थित पीएमसी बैंक शाखा के प्रबंधक को एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौंपने के बाद संघ के संजय उपाध्याय ने कहा कि बैंक शाखा के नजदीक ट्रांसपोर्ट नगर होने की वजह से ज्यादातर ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों के बैंक खाते इसी बैंक में हैं। त्यौहारी समय में बैंक की ओर से भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) का आदेश का हवाला देकर किसी भी प्रकार के खाते में जमा राशि में से महज 40 हजार रूपये निकासी की ही अनुमति दी जा रहीं हैं। जिससे हम खाताधारकों के आर्थिक हालात बुरी तरह प्रभावित हो रहें हैं।

खाताधारकों द्वारा सौंपे गये ज्ञापन के संबंध में बैंक प्रबंधक से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि आरबीआई से प्राप्त आदेशों के परिपालन में प्रत्येक खाताधारक को उसकी कुल जमा रकम में से अधिकतम 40 हजार निकासी की ही अनुमति है। बैंक प्रबंधक ने बताया किसी खाताधारक को चिकित्सकीय आपात स्थिति में एक लाख रूपये तक निकासी की अनुमति है। जिसके लिये आरबीआई को आवेदन करना होगा। आवेदन पर विचार करने के बाद आरबीआई निकासी की अनुमति दे सकता हैं।

पीएमसी बैंक प्रबंधन इंदौर से प्राप्त जानकारी अनुसार आर्थिक राजधानी इंदौर के विजय नगर और अशोक नगर में पीएमसी की दो बैंक शाखाये हैं। दोनों पीएमसी बैंक शाखाओ में कुल पांच हजार से ज्यादा खाता धारक बताये जा रहें हैं, जिनका सावधि जमा, बचत खाता,चालू खाता जैसे विभिन्न प्रकार के खातों में करोडों रूपये के नियमित बैंक व्यव्हार होने की जानकारी सामने आयी हैं।

मात्र 2500/- प्रति वर्गगज में फार्म  हाउस अजमेर रोड, जयपुर  में 9314188188

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended