संजीवनी टुडे

त्रिपुरा : बाढ़ में फंसे 268 लोगों को एनडीआरएफ ने बचाया

संजीवनी टुडे 26-05-2019 14:46:50


गुवाहाटी। प्रथम वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), गुवाहाटी के द्वारा शनिवार को त्रिपुरा के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से 268 लोगों को बचाया गया। त्रिपुरा और असम में बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए एनडीआरएफ की दस टीमें पूरी तरह से तैयार हैं। दस टीमों में लगभग 260 कार्मिक शामिल हैं।

त्रिपुरा में पिछले एक सप्ताह से लगातार हो रही बारिश से जूरी, काकरी और मनु नदी के जल स्तर बढ़ने के कारण त्रिपुरा के धर्मनगर और कैलाशहर में बाढ़ की स्थित उत्पन्न हो गई है। उत्तरी त्रिपुरा जिला के धर्मनगर सब डिवीज़न के अंतर्गत टांगीबारी, कामेश्वर, सोनबरसा और काकरीपारा इलाके बाढ़ से प्रभावित हैं। इस अप्रत्याशित बाढ़ के चलते स्थानीय लोगों का जीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

प्रथम वाहिनी राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के कमांडेंट एसके शास्त्री ने कहा, "एनडीआरएफ की टीमों ने राज्य में अब तक 268 लोगों को बचाया है और राहत और बचाव कार्य जारी है।"त्रिपुरा में जूरी और काकड़ी नदियों का जल स्तर बढ़ने के कारण शनिवार को उत्तरी त्रिपुरा में धर्मनगर के काफी लोग बेघर हो गए। सड़कों और फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है। कई इलाकों में जल भराव की स्थिति को देखते हुए 268 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। बाढ़ के मद्देनजर असम के एनडीआरएफ की बंगाईगांव, गुवाहाटी, सिलचर एवं जोरहाट जिलों में 10 बचाव दल को तैनात किए गए हैं। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

गुवाहाटी में 24 घंटे एनडीआरएफ नियंत्रण कक्ष स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है और दोनों राज्यों में बाढ़ की स्थिति से निपटने के संबंध में अन्य एजेंसियों के साथ संपर्क में है। एनडीआरएफ की 10 टीमों में 30 गोताखोर, 40 आईआरबी नाव और अन्य सभी जीवन रक्षक उपकरणों के साथ बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तैनात हैं।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended