संजीवनी टुडे

शहीद दिवस के लिये कोलकाता में तृणमूल कार्यकर्ताओं का जमघट, पुलिस ने बदला ट्रैफिक रूट

संजीवनी टुडे 20-07-2019 17:39:12

तृणमूल के सबसे बड़े राजनीतिक आयोजन शहीद दिवस के उपलक्ष में रविवार यानि 21 जुलाई को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता कोलकाता के बनर्जी शहीद मीनार मैदान में शहीद दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगी।


कोलकाता। तृणमूल के सबसे बड़े राजनीतिक आयोजन  शहीद दिवस के उपलक्ष में रविवार यानि 21 जुलाई को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता कोलकाता के  बनर्जी शहीद मीनार मैदान में शहीद दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगी। इसमें शामिल होने के लिए राज्य भर से लाखों की संख्या में तृणमूल कार्यकर्ता कोलकाता पहुंचने  लगे हैं। शनिवार को कोलकाता की सड़कों पर तृणमूल कार्यकर्ताओं का जमघट लग देखा गया। पुलिस ने सावधानी बरतते हुए कई क्षेत्रों में  ट्रैफिक रूट को मोड़ दिया है। 

शनिवार सुबह से ही हावड़ा, सियालदह और कोलकाता स्टेशनों पर अलीपुरद्वार, कूचबिहार, मालदा, मुर्शिदाबाद, बांकुड़ा, पुरुलिया, सिलीगुड़ी से हजारों कार्यकर्ता ट्रेन के जरिए पहुंचे हैं। इन स्टेशनों से तृणमूल का झंडा, बैनर, पोस्टर और पार्टी का पट्टा लिये हुए तृणमूल कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए बाहर निकल रहे हैं। 

पर

इन्हें पैदल हावड़ा ब्रिज से अलग-अलग शिविरों में ले जाया जा रहा है। तृणमूल कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ की वजह से हावड़ा ब्रिज से लेकर स्ट्रैंड रोड, बड़ाबाजार और अन्य क्षेत्रों में ट्रैफिक जाम की स्थिति बन गई है। इसलिए ट्रैफिक रूट को उस तरफ मोड़ा गया है जिधर तृणमूल कांग्रेस का शिविर नहीं बनाया गया है अथवा जो क्षेत्र शहीद मीनार मैदान से काफी दूर है। 

पार्टी की ओर से  कार्यकर्ताओं के रहने,  खान-पान, चिकित्सा आदि की व्यवस्था भी की गई है। तृणमूल नेता तथा राज्य के मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक, पूर्व सांसद मौसम बेनजीर नूर, अर्पिता घोष और जीवन साहा को कार्यकर्ताओं के लिये बनाये गये शिविरों की जिम्मेवारी दी गई है।   उत्तर बंगाल से आने वाले कार्यकर्ताओं को सेंट्रल पार्क में बनाए गए शिविर में रखा गया है। साल्टलेक स्थित सेंट्रल पार्क में पंडाल बनाकर समर्थकों के ठहरने व खाने-पीने की व्यवस्था की गई है।

वहीं गीतांजलि स्टेडियम में भी हजारों की संख्या में तृणमूल कार्यकर्ता एकत्रित हुए हैं। इस बार की रैली से ममता 'ईवीएम हटाओ' का नारा बुलंद करने वाली हैं। लोकसभा चुनाव के बाद से ही मुख्यमंत्री आरोप लगाती रही हैं कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ की गई है। ऐसे में अब वह  बैलेट के जरिए मतदान की वकालत कर रही हैं। 21 जुलाई को तृणमूल अपनी राजनीतिक क्षमता का प्रदर्शन करने के साथ ही आगामी विधानसभा चुनाव की मुहिम भी शुरू करेगी।  

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

sssdsdd

More From state

Trending Now