संजीवनी टुडे

कल निकलेगी किसान रैली, 25 को कार्यकर्ता सम्मेलन व 30 को होगी मुख्यमंत्री की रैली

संजीवनी टुडे 22-12-2018 01:01:00


फरीदाबाद। प्रदेश के पांच जिलों की निगम चुनावों में मिली जीत से भाजपा के हौंसले पूरी तरह से बुलंद हैं और इसी जीत से उत्साहित अब वह आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियों में जुट गए हैं। इसी कड़ी में फरीदाबाद जिले के भाजपा नेता हाईकमान को अपनी ताकत दिखाने की रणनीति बना रहे हैं। 

जयपुर में प्लॉट: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

इसमें पृथला विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की टिकट पर दावेदारी जताने वाले हरियाणा सरकार में चेयरमैन सुरेंद्र तेवतिया जहां 23 दिसम्बर को पृथला के गांव मोहना की अनाज मंडी में ‘किसान रैली’ करेंगे, वहीं पृथला विधानसभा से भाजपा की टिकट पर दो बार चुनाव लड़ चुके नयनपाल रावत 25 दिसम्बर को चंदावली में कार्यकर्ता सम्मेलन कर अपनी लोकप्रियता का प्रमाण देंगे। इतना ही नहीं 30 दिसम्बर को हरियाणा के उद्योग मंत्री व फरीदाबाद से विधायक विपुल गोयल भी रैली के माध्यम से अपनी लोकप्रियता भाजपा हाईकमान को दिखाएंगे। 

सुरेंद्र तेवतिया की रैली में जहां हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु मुख्य अतिथि होंगे, वहीं उद्योगमंत्री विपुल गोयल की रैली में मुख्यमंत्री मनोहर लाल मुख्यातिथि के रूप में शिरकत करेंगे। उधर, नयनपाल रावत अपने दम पर कार्यकर्ताओं को जुटाकर पृथला से एक बार फिर अपनी दावेदारी मजबूती से पेश करेंगे। 

विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी न केवल सर्वे के आधार पर टिकट देगी बल्कि टिकटार्थियों की लोकप्रियता व जनाधार को ध्यान में रखते हुए उम्मीदवार का चयन करेगी। इस रणनीति का खुलासा न केवल भाजपा अपनी प्रदेश कार्यकारिणी बैठकों में कर चुकी है बल्कि पिछले दो-तीन सालों में हुए चुनावों के अंदर भी इसका उदाहरण पेश कर चुकी है। यही कारण है कि फरीदाबाद के भाजपा नेता अब अपनी लोकप्रियता व जनाधार दिखाने के लिए रैलियां व कार्यकर्ता सम्मेलनों का आयोजन कर रहे हैं। 

पृथला क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी पिछले चुनावों में मात्र 1100 वोटों से ही पराजित हुए थे। पृथला विधानसभा जाट बाहुल्य विधानसभा है, ऐसे में सुरेंद्र तेवतिया जिस कद्र वहां अपनी सक्रियता बढ़ा रहे हैं, उससे सहज ही अनुमान लगाया जा सकता है कि कहीं न कहीं हाईकमान का उन्हें कोई इशारा अवश्य मिला है। उधर, पृथला विधानसभा चुनाव जीते बसपा विधायक टेकचंद शर्मा भी भाजपा की शरण में हैं। ऐसे में रैली के माध्यम से अपनी ताकत दिखाकर भाजपा नेता हाईकमान को यह संदेश देना चाहते हैं कि पृथला विधानसभा क्षेत्र में उनके पास जनाधार सर्वाधिक है। 

फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र से विधायक व हरियाणा सरकार में उद्योगमंत्री विपुल गोयल की साख दाव पर है। शहरी क्षेत्र होने के कारण फरीदाबाद विधानसभा में सफल रैली का आयोजन करना आसान काम नहीं है। हालांकि कई कालोनियां व गांव भी इस विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं। इसके बावजूद यहां रैली की भीड़ जुटाना आसान नहीं है। उद्योगमंत्री विपुल गोयल को अपनी साख के अनुरूप 15-20 हजार की भीड़ जुटाकर यह साबित करना अनिवार्य होगा कि लोकप्रियता में उनकी टक्कर में कोई नहीं है। 

MUST WATCH

हालांकि बड़े आयोजनों के लिए विपुल गोयल पहले से ही अपनी अलग पहचान रखते हैं परंतु रैली में संख्या के नाम पर कितने सिर जुटा पाएंगे इस पर न केवल विपक्ष की बल्कि भाजपा की भी निगाहें लगी हुई है क्योंकि फरीदाबाद से सांसद व केंद्रीय राज्यमंत्री से भी उनका छत्तीस का आंकड़ा है।

More From state

Trending Now
Recommended