संजीवनी टुडे

सी विजील एप पर की शिकायत का तीन दिन बाद भी नहीं हुआ निराकरण

संजीवनी टुडे 23-03-2019 21:17:37


अनूपपुर। लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान आचार संहिता की अनुपालना सुनिश्चित करने एवं आम जनों को शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष निर्वाचन संपन्न कराने में सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु निर्वाचन आयोग द्वारा सी विजील एप बनाया गया। जिसमें शिकायतों का निराकरण 100 मिनट में किए जाने की बात की गई। इसका उद्देश्य आचार संहिता के उल्लंघन के लिए शिकायत दर्ज कराने हेतु है लेकिन सी विजील एप कि विश्वनीयता पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है। जिसकी शिकायत 20 मार्च को की गई किन्तु 23 मार्च शनिवार तक शिकायत का निराकरण नहीं हो सकी। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166
जानकारी के अनुसार अरविंद बियानी ने एक शिकायत सी विजील एप में 20 मार्च प्रात: 6:21 पर की जो कि रेलवे जंक्शन अनूपपुर की है। जिसमें प्रधानमंत्री की फोटो के साथ रेलवे के गुणगान है सी विजील आईडी 253166 मैं शिकायत दर्ज कर लिखा गया सी विजील सही पाई एवं निराकरण में जवाब दिया गया की उक्त शिकायत में लगे हुए बैनर को हटा दिया गया है। तथा कोई शिकायत शेष नहीं है। उसके पश्चात जब अपराहन में 2.44 पर शिकायतकर्ता रेलवे स्टेशन गया तो देखने में आया कि वह बैनर यथावत वहीं पर लगा हुआ है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

जिस पर तुरंत उन्होंने सी विजील एप पर पुन: शिकायत दर्ज कराई सी विजील आईडी 253868 पर शिकायत दर्ज हो गई उसके बाद उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी के व्हाट्सएप पर जानकारी प्रेषित की एवं मोबाइल पर फोन कर उन्हें जानकारी दी जिस पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने देख लेने की बात कहीं,जो 23 मार्च शनिवार तक नही देखा गया। इससे सी विजील एप कीे शिकायतों के गलत निराकरण से उसकी विश्वनीयता पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है जो किसी भी तरह से उचित नहीं है भारत निर्वाचन आयोग को चाहिए कि शिकायतों का सही निराकरण 100 मिनट के समय पर कराएं जिससे सी विजील का उद्देश्य पूरा हो सके।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended