संजीवनी टुडे

इस बार त्यौहारों पर भी भारी साबित हो रही कोरोना वायरस महामारी

संजीवनी टुडे 23-10-2020 16:56:01

धनतेरस पर घर के लिए व भाईदूज पर बहने भाई के लिए उपहार खरीदती है।


भिवानी। कोरोना वायरस त्यौहारों पर भी भारी साबित हो रहा हैं। दो दिन बाद विजय दशमी का पर्व रविवार के दिन मनाया जाएगा। गत वर्ष तक विजय दशमी, करवाचौथ, अहोई अष्ष्टमी, धनतेरज, दीपावली, भाईदूज, छठ पूजा को लेकर लोगों में खासा उत्साह दिखाई देता था, लेकिन इस बार कोरोना का रोना इतना भयभीत कर रहा है कि न कोई खरीदारी के प्रति उत्साहित है और न ही कोई आपस में मिलने-जुलने को।

विजय दशमी पर शहर में तीन-चार जगह रावण दहन के कार्यक्रम होते थे, लेकिन इस बार महामारी के चलते ये सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं। इसके बाद आने वाले त्यौहारों में तो खरीदारी की भूमिका अधिक होती है। भले ही सुहागिन अपने लिए सामान खरीदे या फिर अहोई अष्टमी पर बच्चों के लिए। धनतेरस पर घर के लिए व भाईदूज पर बहने भाई के लिए उपहार खरीदती है। 

एक तो महामारी का भय और दूसरा महंगाई की मार। इसी से तो आम आदमी दो-चार हो रहा हैं। स्थिति यह बनी हुई हैं कि त्यौहारों के प्रति लोगों का उत्साह खत्म सा हो गया है। औपचारिकता पूरी करने के लिए लोग अपनी निम्र जरूरतों को पूरा करने के लिए खरीदारी की औपचारिकता कर रहे हंै। महंगाई के चलते लोगों की जेब भी जवाब दे गई है। दूसरा महामारी की मार से लोगों के रोजगार पर भी सवालिया लग गया हैं। परिवार पोषण भी आम लोगों के लिए कठिन काम हो गया हैं। 

ऐेसे में त्यौहारों के प्रति उत्साह कहां से आएगा। बाजार में खरीदारी करने आए रामनिवास, सावित्री, श्योनंद, सरला, सुनीता आदि से जब बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि वर्ष के त्यौहार आवे तो छोरी-छापरी खातिर कुछ न कुछ तो करना पड़ेगा। जिसकी आसंग है, उसो काम तो करना ही है। महंगाई के चलते त्यौहारों का उत्साह फीका पड़ गया हैं। उन्होंने कहा कि जीवन के पांच दशक से अधिक उन्होंने देखे है, ऐसी महंगाई व मंदी कभी नहीं देखी। 

यह खबर भी पढ़े: Business: अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया 7 पैसे की कमजोर

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended