संजीवनी टुडे

इस बार है पीएम मोदी के काम की लहर: डिप्टी सीएम

संजीवनी टुडे 25-04-2019 22:09:21


बेगूसराय। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को बेगूसराय से एनडीए के प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के लिए जिला मुख्यालय में रोड शो किया। हर-हर महादेव चौक से शुरू रोड शो जीडी कॉलेज, पटेल चौक, कर्पूरी स्थान, काली स्थान चौक, विष्णुपुर, खातोपुर, महमदपुर, ट्रॉफिक चौक होते हुए कचहरी चौक पर आकर समाप्त हो गया। 

रोड शो के दौरान कड़ी धूप के बावजूद सैकड़ों मोटरसाइकिल सवार कार्यकर्ता एवं अन्य वाहनों से उमड़ी भीड़ के कारण पूरा शहर मोदी मय दिखा। रोड शो में उपमुख्यमंत्री के साथ प्रत्याशी गिरिराज सिंह, जदयू जिलाध्यक्ष भूमिपाल राय, भाजपा जिलाध्यक्ष संजय सिंह, शुभम कुमार, मृत्युंजय वीरेश, सुमित सन्नी भी चल रहे थे। हालांकि रोड शो में शामिल भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री और स्थानीय निकाय के विधान पार्षद रजनीश कुमार अपने वाहन से भी नहीं निकले। जो चर्चा का विषय बन रहा। रोड शो के दौरान दर्जनों जगह फूलों की बारिश कर स्वागत किया गया। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

रोड शो से पहले प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि इस वर्ष के चुनाव में 2014 के चुनाव से भी अधिक लहर है। 2014 में लोगों ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में विकास करने वाले नरेंद्र मोदी को वोट दिया था। इस वर्ष के चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों को देख कर वोट करने जा रहे हैं। बिहार में एनडीए के लिए प्रधानमंत्री की पांच सभा हो चुकी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और उनकी रोज सभा हो रही है। एनडीए अपने चुनाव अभियान के लिए टिकट बंटवारा, सीट बंटवारा और चुनावी अभियान एकजुट होकर कह रही है। जबकि महागठबंधन बिखर चुका है। उनके यहां छह सीट पर विवाद लगातार जारी है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के पांच साल तथा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार के 13 साल के काम ने विपक्ष के पास विकास का कोई मुद्दा ही नहीं रहने दिया। राष्ट्रीय सुरक्षा भी हमारा बड़ा मुद्दा है। जबकि महागठबंधन के कलंकित लोग के भाषण से विकास का मुद्दा गायब है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

मोदी सरकार के पांच साल में कश्मीर छोड़ कर कहीं हमला नहीं हुआ। जम्मू कश्मीर में आतंकवाद ढाई किलो मीटर में सिमट कर रह गया है। जबकि उनके समय बराबर ब्लास्ट होते रहता था। गिरिराज सिंह की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार में बेगूसराय के सांसद भोला बाबू मंत्री नहीं थे। इसके बाद भी सबसे अधिक फंड बेगूसराय को मिला। अब जबकि गिरिराज सिंह सांसद बन कर नहीं मंत्री बन कर विकास की नई गाथा लिखेंगे तो बेगूसराय कितना आगे बढे़गा इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।
 

More From state

Trending Now
Recommended