संजीवनी टुडे

युवती ने चम्बल में कूद कर दी जान

संजीवनी टुडे 12-03-2019 19:00:14


कोटा। कोटा शहर में सेक्स रैकेट चलाने वाला गिरोह एक बार फिर सक्रिय हो गया है, जिसके चलते एक युवती को अपनी जान गंवानी पड़ी। युवती का शव मंगलवार को चम्बल नदी में छोटी पुलिया के पास मिला।जानकारी के अनुसार कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र पर चम्बल नदी पर बने छोटी पुलिया पर सुबह एक युवती का शव मिलने पर लोगों ने इसकी जानकारी थाना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही कुन्हाड़ी थाना पुलिस ने मौके पर पहुच कर कोटा नगर निगम की गोताखोर टीम को मदद के लिए बुलवाया। जिस पर विष्णु श्रंगी के नेतृत्व में गोताखोर टीम ने मौके पर पहुंचकर युवती का शव चम्बल नदी से बाहर निकाला। थाना पुलिस ने युवती का शव कोटा एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में शिफ्ट करवाया। जहां युवती की पहचान कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र के बालित रोड शीतला माता मदिर के पास रहने वाली रेहाना (18) पुत्री इस्लाम के रूप में हुई। परिजनों ने एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी पर पहुंचकर युवती का दुष्कर्म कर हत्या का शक जताते हुए शव को उठाने से मना कर दिया।

युवती की बहन जैनब ने बताया कि मानसिक तनाव में आकर रेहाना ने तीन मार्च को अज्ञात विषाक्त का सेवन कर लिया था, जिसके चलते उसे कोटा के एबीएस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। वहीं पर उनके पिता इस्लाम भी अस्थि वार्ड में भर्ती थे। हालत में सुधार होने छह मार्च रात को रेहाना अस्पताल से अचानक गायब हो गई। जिसकी गुमशुदगी नयापुरा थाने में दर्ज कराते हुए उनके यहां किराये से रहने वाली मोना (18) पुत्री रामभजन पत्नी साहिल उर्फ जाहिद निवासी शिवजी का चौक शिवपुरा पर किडनैप कराने का मामला दर्ज करवाया था।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

उन्होंने बताया कि मोना पिछले 3 माह से उनके यहां किराये से कमरा लेकर रहा रही थी। जो देहव्यापार में लिप्त होने से आये दिन उसके कमरे पर नई-नई लडकिया आती थी ओर उसने रेहाना को भी अपने चंगुल में फंसा रखा था। इसकी जानकारी परिजनों को लगते ही उन्होंने मोना के बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला की मोना शिवपुरा में भी सेक्स रैकेट का संचालन करती थी। उसके पास कोटा सहित दिल्ली व मुम्बई की लड़कियों के कॉन्टेक्ट नंबर थे और वह देह व्यापार के लिए लड़कियों को सप्लाई करने का काम करती थी। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इसकी जानकारी लगने के बाद परिजनों ने उसे किराये का कमरा खाली करने को कहा लेकिन मोना ने वहां से कमरा खाली नहीं किया। मोना द्वारा रेहाना को देहव्यापार में धकेलने के बाद उसने डिप्रेशन में आकर घर पर अज्ञात विषाक्त का सेवन कर लिया। जिसके बाद 6 मार्च को रेहाना के अस्पताल से गायब होने के साथ ही मोना भी वहां से बिना बताए कमरा खाली करा कर फरार हो गई। इस मामले को लेकर नयापुरा थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया। नयापुरा थाना पुलिस की लापरवाही के चलते एमबीएस अस्पताल से छह दिन पहले गायब हुई युवती की समय रहते तलाशी नहीं करने से युवती का शव चम्बल नदी में मिली।

More From state

Trending Now
Recommended