संजीवनी टुडे

कार्यालय खुलने-बंद होने का समय न‍िर्धार‍ित, फि‍र भी लटकता रहता है ताला

संजीवनी टुडे 25-05-2019 17:58:24


कोरिया। शासन ने शासकीय कार्यालयों के खुलने और बंद होने का निश्चित समय तय कर रखा है। साथ ही कार्यालय में काम करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए लंच करने का भी समय निर्धारित है। पर कोरिया जिले का दूरस्थ वनांचल विकासखण्ड भरतपुर के मुख्यालय जनकपुर में स्थित शासकीय कार्यालयों अजब गजब नजारा  है। कहीं पूरे दिन सरकारी कार्यालय बन्द है तो कही लंच की आड़ लेकर कर्मचारी कार्यालय के सभी कमरों में ताला लगाकर गायब हो जाते हैं।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर से डेढ़ सौ किलोमीटर की दूरी पर स्थित ब्लाॅक मुख्यालय जनकपुर में शासकीय कार्यालयों का क्या हाल है इसे यहां कभी भी अचानक पहुंचकर आसानी से देखा जा सकता है। यहां के कार्यालयों में पदस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों को इस बात का जरा भी डर व खौफ नहीं है। क्योंकि उनको मालूम है कि इतनी दूर से उनके विभाग के बड़े अधिकारी अचानक यहां आ नहीं सकते है।  जिन अधिकारियों को यहां आना होता है तो उनके आने की खबर पहले से ही यहां पर कार्यरत कर्मचारियो को रहती है, ऐसे में सब अपनी मर्जी के मालिक रहते है।

 जब वनांचल विकासखण्ड भरतपुर मुख्यालय में स्थित वन विभाग के चार कार्यालयों में गए तो वहां आफिस टाइम में ताला लटक रहा था, और कहीं आफिस खुला है तो अंदर सन्नाटा पसरा हुआ है।  वनपरिक्षेत्राधिकारी कार्यालय बहरासी के मुख्य द्वार पर ताला लटक रहा है और परिसर में स्थित एक पेड़ के नीचे दो लोग खड़े है। जब हमने इनसे पूछा तो पता चला कि दोनों इसी कार्यालय में पदस्थ है। इनमें से एक वीरबहादुर चपरासी है और दूसरा राजेन्द्र दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी। ऐसे में बड़ा सवाल यह था कि कार्यालय के दो कर्मचारी होने के बाद कार्यालय क्यों बन्द है। इन कर्मचारियों ने कार्यालय बन्द होने का कारण भी बताया। एक कर्मचारी से रेंजर शिवानंद द्व‍िवेदी नाराज हो गए थे, जिसके पास चाभी नहीं थी तो दूसरे कर्मचारी को रेंजर साहब ने कार्यालय बन्द कर देने के लिए कहा था। इसलिये कार्यालय सुबह से नहीं खुला।

 बात अगर कुंवारपुर रेंज के कार्यालय की करें तो इस कार्यालय का मेन गेट खुला हुआ था पर अंदर के तीनों दरवाजों पर ताला लटक रहा था । रेंजर कार्यालय लिपिक कक्ष और कम्प्यूटर कक्ष में ताला लगा हुआ मिला। बात करे जनकपुर रेंज कार्यालय की तो, मुख्य द्वार पर चैनल गेट बिना ताले के बन्द था। वहीं एसडीओ कार्यालय जाने पर वहां चपरासी बाहर मौजूद था, पर लंच टाइम नहीं होने के बाद भी कर्मचारी मौजूद नहीं थे। दूरस्थ क्षेत्र होने की वजह से यहां पदस्थ व कार्यरत अधिकारी कर्मचारी लंच के बहाने कार्यालयों से घण्टो नदारद रहते है।  जिससे शासकीय कार्य से कार्यालय में आने-वाले ग्रामीण जनता परेशान होती रहती है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

उपवनमंडाधिकारी जनकपुर केएस कंवर ने कहा क‍ि लंच समय होने के कारण कर्मचारी गए होंगे पर सभी को एक साथ कार्यालय से नहीं जाना चाहिए। इसकी जांच की जाएगी।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended