संजीवनी टुडे

उफनायी घाघरा से गोंडा के तटवर्ती इलाकों में बाढ़ का खतरा

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 06-08-2019 11:35:04

बैराजों से छोड़े जा रहे पानी के तेज बहाव से उफनायी घाघरा नदी से उत्तर प्रदेश में गोण्डा जिले के तटवर्ती इलाकों के करीब 50 गांवों में बाढ़ का खतरा गहरा गया है।


लखनऊ। बैराजों से छोड़े जा रहे पानी के तेज बहाव से उफनायी घाघरा नदी से उत्तर प्रदेश में गोण्डा जिले के तटवर्ती इलाकों के करीब 50 गांवों में बाढ़ का खतरा गहरा गया है।

राजस्थान के 19 शहरों में अलर्ट जारी, अगले 4 दिन हो सकती है भारी बारिश

कर्नलगंज में बह रही घाघरा नदी एल्गिन ब्रिज पर मंगलवार सुबह नदी खतरे के निशान 106.07 से दो सेंटीमीटर ऊपर बह रही थी। ऐल्गिन चडसडी तटबंध को ठोकरें मारने से आसपास के करीब पचास गावों की आबादी भयभीत है। केंद्रीय जल आयोग ने घाघरा का जलस्तर 106.096 रिकार्ड किया है।। नदी का जलस्तर लगातार शनै शनै बढ़ता जा रहा है ।

सहकारी केंद्रीय बैंक राजनांदगांव के बोर्ड को अनियमितता के कारण किया निलंबित

अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्र ने यूनीवार्ता को बताया कि घाघरा के बढ़ते जलस्तर को देखते हुये बाढ़ की आशंका के मद्देनजर सभी 26 बाढ़ चौकियो पर तैनात अधिकारियो व कर्मचारियों को सक्रिय कर दिया गया है। ऐल्गिन चडसड़ी तटबंध के कुछ हिस्सो में नकहरा गांव के पास रिसाव से निचले हिस्सो में पानी भरना शुरू हो गया है।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

उन्होने बताया कि बाढ़ से प्रभावित होने वाले तटवर्ती गावों में ग्रामीणों को सचेत कर दिया गया है। घाघरा की बाढ़ से जनहानि रोकने के लिये जल पुलिस गोताखोर , पीएसी और अन्य आपदा राहत व बचाव प्रबंधन शरणालय , रैन बसेरा , अस्थायी अस्पताल , जलजनित रोगों से बचाव के लिये दवाइयां और अन्य संसाधनो संग एलर्ट है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now