संजीवनी टुडे

निकाय चुनावों को लेकर अब तक दुविधा में हैं राज्य सरकार: डॉ. पूनियां

यूनीवार्ता- इनपुट

संजीवनी टुडे 13-10-2019 22:51:42

राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.सतीश पूनियां ने कहा है कि कांग्रेस राज्य में निकाय चुनाव प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष कराने को लेकर अब तक दुविधा में है।


झुंझुनू। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष डॉ.सतीश पूनियां ने कहा है कि कांग्रेस राज्य में निकाय चुनाव प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष कराने को लेकर अब तक दुविधा में है।

यह खबर भी पढ़ें: तालिबानी आतंकवादियों ने की वार्दाक के गवर्नर की हत्या

डा़ पूनियां ने आज राजस्थान में झुंझुनू में पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस ने पहले तो जन घोषणा पत्र में निकाय चुनावों को सीधे कराने का वादा जनता से किया। अब जब जनता का रुख देखा तो कभी प्रत्यक्ष तो कभी अप्रत्यक्ष चुनाव करवाने की बात सामने आ रही है। उन्होंने कहा कि चाहे चुनाव प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष कैसे भी करवाये जायें, जनता इन्हें सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है।

डा़ पूनिया ने कहा कि उन्होंने कहा कि यही कारण कि वार्डों को तोड़ा मरोड़ा जा रहा है। ताकि बाड़ेबंदी करके, सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग करके निकाय चुनावों में जीत दर्ज कर सके, लेकिन भाजपा तैयार है। कांग्रेस जैसी मर्जी हो, वैसे चुनाव करवा लें। उन्होंने उप चुनावों में वसुंधरा राजे के प्रचार में आने के सवाल पर कहा कि श्रीमती राजे फिलहाल व्यस्त हैं, हाल ही में वह उत्तर प्रदेश में जन जागरण कार्यक्रमों में हिस्सा लेकर लौटी हैं। उनसे समय लिया जा रहा है। वह चुनाव प्रचार में भी आएंगी और संगठनात्मक कार्यक्रमों में भी आएगी।

किसान के बेटे को मुख्यमंत्री बनाने के सवाल पर डा़ पूनियां ने कहा कि फिलहाल तो उनका लक्ष्य है कि 2023 में कांग्रेस मुक्त राजस्थान कैसे किया जाए? लेकिन फिर भी किसान के बेटे को भी मौका मिलना चाहिए, मिलता भी है और आगे मिलेगा भी। 

उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को लेकर दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि श्री गहलोत अपनी पार्टी का ध्यान रखें। दिल्ली में मां और बेटों के गुट बने हुए हैं, वहीं राजस्थान में मुख्यमंत्री उप मुख्यमंत्री के गुट बने हुए है।

मात्र 13.21 लाख में अपने ख़ुद के मकान का सपना करें साकार, सांगानेर जयपुर में बना हुआ मकान कॉल - 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended