संजीवनी टुडे

पूर्व गृहमंत्री के पुत्र ने फर्जी शपथ पत्र प्रस्तुत कर प्राप्त किया पेट्रोल पंप ?

संजीवनी टुडे 13-03-2019 15:30:02


सूरजपुर। एक तरफ लोकसभा चुनावों के लिए दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों में रस्साकशी का दौर चल रहा है। वहीं इसी बीच आरटीआई कार्यकर्ता डीके सोनी ने भाजपा नेता और पूर्व गृहमंत्री के पुत्र लवकेश पैकरा के फर्जी रूप से विवाह का शपथपत्र प्रस्तुत कर पेट्रोल पंप हासिल करने का आरोप लगाते हुए , जयनगर पुलिस थाने में आवेदन पत्र देकर अपराध दर्ज कराए जाने की मांग की है। 

बुधवार को एक पत्रवार्ता में सूचना के अधिकार से जुड़े कार्यकर्ता डी.के. सोनी ने उक्त आरोप लगाते हुए दस्तावेज पेश किये हैं। पत्रवार्ता में बताया गया कि पेट्रोल पंप के आउटलेट डीलरशिप के लिए इंडियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड द्वारा 13 अक्टूबर 2014 को समाचार पत्रों के माध्यम से विज्ञापन निकालें गए। उक्त विज्ञापन के आधार पर पूर्व गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के पुत्र लवकेश पैकरा के द्वारा आउटलेट डीलरशिप के लिए दिनांक 17 नवम्बर 2014 को इंडियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड के समक्ष सम्पूर्ण दस्तावेज के साथ आवेदन पत्र प्रस्तुत किया गया। उक्त आवेदन में लवकेश पैकरा की संपूर्ण जानकारी तथा विवाहित, अविवाहित होने के संबंध में पूरी जानकारी, जमीन, शैक्षणिक योग्यता की जानकारी, स्थायी निवासी, जाति प्रमाण-पत्र सहित सम्पूर्ण दस्तावेज प्रस्तुत किया गया।जिसमें उन्होंने खुद को साल 2014 में विवाहित बताया। 2014 के शपथ पत्र में उसने पत्नी का नाम बासमती पैकरा बताया था । 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

पहले से मां के नाम से गैस एजेंसी था, इस कारण दिया गया झूठा शपथपत्र-
इस मामले पर दस्तावेज प्रस्तुत करते हुए आरटीआई कार्यकर्ता डी.के सोनी ने बताया है कि लवकेश पैकरा द्वारा झूठा शपथ पत्र दिया गया है। पूर्व से लवकेश पैकरा की माँ शशिकला पैकरा के नाम से प्रतापपुर में इंडियन ऑयल कम्पनी का एलपीजी ग्रामीण वितरण का डीलरशिप है। इंडियन ऑयल कम्पनी का यह नियम है कि, अगर परिवार के किसी भी सदस्य के नाम से किसी भी कम्पनी का डीलरशिप या वितरण का एजेंसी है तो उस परिवार के किसी भी अन्य सदस्य को दूसरा डीलरशिप प्रदान नहीं किया जा सकता है। चूंकि लवकेश पैकरा अविवाहित था, और उसे इंडियन ऑयल कम्पनी का आउटलेट डीलरशिप प्राप्त करना था, इस कारण उसने आप को विवाहित बताकर, अपनी पत्नी का नाम काल्पनिक रूप से उल्लेख करते हुए झूठा शपथ-पत्र प्रस्तुत कर उक्त आउटलेट डीलरशिप प्राप्त किया गया है। इसे अपराधिक कृत्य बताते हुए प्रकरण दर्ज करने की मांग की गई है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

अधिवक्ता एवं आरटीआई कार्यकर्ता के द्वारा एक लिखित शिकायत थाना जयनगर में प्रस्तुत किया गया है। आवेदन में तथ्यों का उल्लेख करते हुए बताया गया है कि अम्बेडकर चौक अंबिकापुर से रेल्वे स्टेशन एनएच क्रमांक 43 पर पेट्रोल पंप के आउटलेट डीलरशिप के लिए इंडियन ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड द्वारा 13 अक्टूबर 2014 को समाचार पत्रों के माध्यम से विज्ञापन निकाला था। शिकायत में कहा गया है कि पूर्व मंत्री पुत्र के द्वारा विवाहित होने का दिया गया शपथ पत्र झूठा है। आरटीआई कार्यकर्ता ने दस्तावेज के साथ जानकारी दी है कि नवम्बर 2014 तक लवकेश पैकरा का विवाह किसी भी लड़की के साथ नहीं हुआ था। श्रीमति बासमंती पैकरा नाम की कोई भी महिला, लवकेश पैकरा की पत्नी नहीं बनी है। मात्र आउटलेट डीलरशिप लेने के लिए तथा शासन के योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए शासन के कम्पनी इंडिया ऑयल कार्पोरेशन लिमिटेड के समक्ष झूठा शपथ पत्र प्रस्तुत किया गया। वास्तव में लवकेश पैकरा का विवाह 18 मई 2017 रविवार को रायपुर में संपन्न हुआ। उक्त तथ्यों को प्रमाणित करने के लिए लवकेश पैकरा एवं कु. दुर्गावती (रानी) के शादी का कार्ड भी शिकायत के साथ प्रस्तुत किया गया है। इस संबंध में लवकेश पैकरा से पूछे जाने पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया गया। 

More From state

Trending Now
Recommended