संजीवनी टुडे

नाग के बिछोह में नागिन ने भी त्यागे प्राण, गांव वाले बनाएंगे मंदिर

संजीवनी टुडे 24-02-2020 22:35:20

नाग की मौत के बाद गमगीन एक नागिन पखबाड़े भर से एक ही स्थान पर भूखी प्यासी पड़ी रही। सोमवार को उस नागिन ने भी दम तोड़ दिया।


ग्वालियर। नाग की मौत के बाद गमगीन एक नागिन पखबाड़े भर से एक ही स्थान पर भूखी प्यासी पड़ी रही। सोमवार को उस नागिन ने भी दम तोड़ दिया। इस दौरान नागिन इतने दिनों तक अपने बिल से निकलकर बाहर आ जाती थी और कुछ समय फिर बिल में चली जाती थी। उधर नागिन के एक स्थान पर ही जमे होने की वजह से वह जगह लोगों की आस्था का केन्द्र बन गई और ग्रामीणों ने वहां पूजा पाठ कर चढ़ावा चढ़ाना प्रारंभ कर दिया। 

मदेवगढ़ थाना क्षेत्र के गलेथा गांव के पास कासपुरा गांव है। पंद्रह दिन पूर्व यहां एक सांप को गांव के ही व्यक्ति ने मार डाला था। जिस स्थान पर सांप को मारा था उस जगह पर तभी से एक नागिन आ गई। चूंकि नागिन चुपचाप थी इसलिए ग्रामीणों ने भी कुछ नहीं किया। उधर इस घटना को दो-तीन दिन बीते और नागिन वहां से टस से मस नहीं हुई, तो वह स्थान लोगों की आस्था का केन्द्र बन गया और उन्होंने वहां पर पूजा पाठ कर चढ़ावा चढ़ाना प्रारंभ कर दिया। सोमवार को उस नागिन की मृत्यु हो गई। कासपुरा गांव के लोगों ने बताया कि इस दौरान नागिन कहीं पर भी नहीं गई और ना ही उसने दूध का सेवन किया। नागिन की मौत के बाद गांव वालों ने उसका अंतिम संस्कार कर उसका मंदिर बनाने का विचार किया है।

यह खबर भी पढ़े: ट्रम्प के सम्मान में आयोजित रात्रिभोज से कांग्रेस ने किया पूरी तरह किनारा

यह खबर भी पढ़े: शरजील के साथ सांसद मौलाना अजमल के संबंध का मुद्दा गरमाया

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended