संजीवनी टुडे

नवीन कमलनुमा वेदी श्रीजी हुए विराजमान, वेदियों पर चढ़ाए 128 चवर

संजीवनी टुडे 12-10-2019 19:37:32

प्रथम दिन मुख्य आयोजन प्रतिष्ठाचार्य प्रधुम्न शास्त्री के निर्देशन में प्रातः 7.15 बजे से प्रारम्भ हुआ जिसमें सर्व प्रथम मन्दिर की तीनों प्रमुख वेदियो पर 128 सौभाग्यशाली परिवारों द्वारा 128 चवरो की स्थापना युगल मुनिराज के द्वारा मंत्रोउच्चार के साथ करवाई गई।


जयपुर। मानसरोवर स्थित वरुण पथ दिगम्बर जैन मंदिर पर गणाचार्य विराग सागर महाराज के शिष्य मुनि विश्वास सागर महाराज एवं मुनि विभंजन सागर महाराज ससंघ सानिध्य में शनिवार को प्रातः 6 बजे से मूलनायक भगवान महावीर स्वामी के स्वर्ण एवं रजत कलशों से कलशाभिषेक एवं वृहद शांतिधारा कर दो दिवसीय महोत्सव का शुभारंभ किया गया। 

यह भी पढ़े: छात्र देश के लिए जिम्मेदार नागरिक बने- गर्ग

प्रथम दिन मुख्य आयोजन प्रतिष्ठाचार्य प्रधुम्न शास्त्री के निर्देशन में प्रातः 7.15 बजे से प्रारम्भ हुआ जिसमें सर्व प्रथम मन्दिर की तीनों प्रमुख वेदियो पर 128 सौभाग्यशाली परिवारों द्वारा 128 चवरो की स्थापना युगल मुनिराज के द्वारा मंत्रोउच्चार के साथ करवाई गई। जिसके उपरांत एक वेदी पर विराजमान पदमप्रभ भगवान और मुनिसुव्रतनाथ भगवान को नवीन कमलनुमा वेदी पर शुद्धि संस्कार की क्रिया विधि, मंत्रोउच्चार और जयकारों के साथ पुनः विराजमान किया गया। श्रीजी को विराजमान करने का सौभाग्य अरुण, शैलबाला पाटनी परिवार और मैना देवी, धीरज, पूर्णिमा पाटनी परिवार को प्राप्त हुआ।

आयोजन में युवा मंडल और महिला मंडल के पदाधिकारियों सहित चवरो को चढ़ाने वाले सभी पुण्यार्जक परिवारों ने भाग लिया। प्रचार संयोजक अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया चवर और नवीन वेदी की स्थापना के उपरांत प्रातः 8.30 बजे युगल मुनिराजों के मंगल उद्धबोधन सम्पन्न हुए। जिसमे मुनि संघ ने अपने आशीर्वचन में जिनालयों के राखरखावों का महत्व पर प्रकाश डाला और विशेषताएं उपस्थित जनसमूह को बताई। सांध्यकालीन में सायं 6.15 बजे श्रीजी की मंगल आरती, गुरुभक्ति, आनंद यात्रा का आयोजन सम्पन्न हुआ।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended