संजीवनी टुडे

राज्य के इन पांच जिलों में अभी भी बारिश की कमी, जानिए

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 04-08-2019 13:58:43

राजस्थान में औसत सामान्य वर्षा हो जाने के बाद भी अभी पांच जिलों में बरसात की कमी है


जयपुर। राजस्थान में औसत सामान्य वर्षा हो जाने के बाद भी अभी पांच जिलों में बरसात की कमी है जबकि अजमेर, झुंझुनूं एवं सीकर जिलों में असामान्य तथा नौ जिलों में सामान्य से अधिक एवं सोलह में सामान्य बारिश हो चुकी है। 

जल संसाधन विभाग के अनुसार राज्य में गत एक जून से तीन अगस्त तक 308़ 26 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है जो सामान्य वर्षा 267़ 05 की तुलना में 15़ 4 प्रतिशत अधिक हैं। सामान्य से 19 प्रतिशत कम और अधिक वर्षा सामान्य श्रेणी में मानी जाती है। गत वर्ष इस दौरान 290़ 15 मिलीमीटर बरसात हुई थी। राज्य में अब तक सामान्य वर्षा होने के बावजूद अलवर, गंगानगर, जैसलमेर, जालोर एवं सिरोही जिलों में बरसात की कमी बनी हुई है। इन जिलों में सिरोही जिले में सबसे अधिक 35़ 7 प्रतिशत से भी अधिक बारिश की कमी है। 

इसी तरह जालोर जिले में सामान्य से 29़ 6 प्रतिशत, अलवर में 23़ 3, श्रीगंगानगर में 22़ 4 बीकानेर 18़ 1 एवं जैसलमेर में 21़ 1 प्रतिशत सामान्य से कम बरसात हुई है। राज्य में इस समय अच्छी वर्षा का दौर जारी हैं और झुंझनूं में अब तक 222़ 60 मिलीमीटर सामान्य वर्षा की तुलना में 415़ 87 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है जो सामान्य से 86़ 8 प्रतिशत अधिक है। इसी तरह सीकर में अब तक 227़ 20 मिलीमीटर सामान्य वर्षा के मुकाबले 419़ 95 मिलीमीटर बरसात हुई जो सामान्य से 84़ 8 प्रतिशत अधिक है। इसके अलावा अजमेर में भी 226़ 80 मिलीमीटर सामान्य वर्षा के मुकाबले 378़ 33 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है जो सामान्य से 66़ 8 प्रतिशत अधिक है। 

इस दौरान नौ जिलों में सामान्य से अधिक बरसात हो चुकी है जिनमें भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ, चूरु, जयपुर, कोटा, नागौर, राजसमंद एवं सवाईमाधोपुर जिले शामिल है। इसके अलवा अब तक सोलह जिलों में सामान्य बारिश हुई जिनमें उदयपुर, टोंक, पाली, करौली, जोधपुर, झालावाड़, डूंगरपुर, धोलपुर, दौसा, भरतपुर, बाड़मेर, बारां, हनुमानगढ़, बीकानेर, प्रतापगढ़ एवं बांसवाड़ा शामिल है। 

इस दौरान राज्य के छोटे बड़े 810 बांधों में अब तक 35 बांध पूर्ण रुप से भर चुके हैं। इनमें 416 बांध आंशिक रुप से भरे गये है जबकि 359 अभी खाली है। राज्य के बांधों में अब तक भराव क्षमता 12701़ 73 एमक्यूएम के मुकाबले 5245़ 80 एमक्यूएम पानी पहुंच गया है जो 41़ 30 प्रतिशत है। पिछले साल इस दौरान इन बांधों का जल स्तर 5705़ 53 एमक्यूएम था। गत पन्द्रह जून को इन बांधों में 3425़ 91 एमक्यूएम पानी था जो भराव क्षमता का 26़ 97 प्रतिशत था। 

राजधानी जयपुर सहित अन्य कुछ जिलों में पेयजल आपूर्ति का करने वाले टोंक जिले में स्थित बिसलपुर बांध का जलस्तर बढ़कर 307़ 06 मीटर पहुंच गया है। 

उधर मौसम विभाग के अनुसार आगामी अड़तालीस घंटों में राज्य के एक दो स्थानों पर भारी बरसात की संभावना है जिससे करीब दो दर्जन जिले प्रभावित हो सकते हैं, इनमें भरतपुर, बूंदी़, चित्तौड़गढ, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, जयपुर, झालावाड़, कोटा, सिरोही, प्रतापमगढ, सीकर, राजसमंद, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, टोंक एवं उदयपुर शामिल है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

पांच अगस्त को एक दो स्थानों पर जहां भारी बारिश की संभावना है उससे बाड़मेर, जैसलमेर, जालौर एवं पाली जिलें प्रभावित हो सकते है। उल्लेखनीय है कि राज्य में गत जुलाई के प्रथम सप्ताह में प्रवेश किये मानसून के शीघ्र ही फीका पड़ जाने के बाद पन्द्रह-बीस दिन पश्चात फिर सक्रिय होने से कुछ स्थानों पर बाढ़ के हालात भी बने और अभी अच्छी बरसात का दौर जारी है। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

???????

More From state

Trending Now
Recommended