संजीवनी टुडे

रक्षाबंधन में बहने देंगी भाइयों को कोरोना से रक्षा का उपहार, सुरक्षा किट में बिक रही राखियों की भारी मांग

संजीवनी टुडे 02-08-2020 16:56:35

भाई-बहन के प्यार का त्योहार रक्षाबंधन तीन अगस्त को है। मगर, इस बार इस त्योहार पर कोराेना का साया है। इस पावन रिश्ते को मनाने के लिए बहन व भाई अपने−अपने तरीके से तैयारी कर रहे हैं।


मुंबई। भाई-बहन के प्यार का त्योहार रक्षाबंधन तीन अगस्त को है। मगर, इस बार इस त्योहार पर कोराेना का साया है। इस पावन रिश्ते को मनाने के लिए बहन व भाई अपने−अपने तरीके से तैयारी कर रहे हैं। इस वर्ष रक्षाबंधन पर दुकानो में राखी के साथ कोरोना से बचाव की किट भी दुकानदार बेंच रहे है। जिसको बहन की ओर से भाइयों के स्वस्थ्य रहने के लिए उपहार बताया जा रहा है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच पहली बार बहनें, भाई को राखी बांधने के साथ सैनिटाइजर, मास्क, हर्बल टी, साबुन आदि उपहार में देंगी। 

रक्षाबंधन त्योहार में अभी कुछ दिन शेष है, लेकिन बहनें अभी से अपनी तैयारी करने में जुट गई है। दूर-दराज रहने वाले भाई को राखी पहले भेजनी पड़ती है, ताकि समय पर मिल सके। ससुराल में रहने वाली बहनें भी अपने पीहर के लिए अभी से राखियां भेज रही है। दुकानदारों का कहना है, कि महिलाएं राखियों के साथ कोरोना से बचाव के सामान की भी मांग कर रही है। बढ़ती मांग को देखते हुए महिलाओं के लिए एक खास किट तैयार की जा रही है। जिसमें राखियों के साथ कोरोना से बचाव की सुरक्षा किट भी मौजूद है।

बाजारों में बढ़ी चहल पहल
रक्षाबंधन के करीब आते देख कोरोना के कारण छाया बाजारो का सन्नाटा टूटने की उम्मीद दुकानदार कर रहे है। जिससे कोरोना महामारी के कारण लंबे समय तक बंद रहे बाजार को इस त्योहार से संजीवनी मिल सकती है। दुकान स्वदेशी के साथ विभिन्न डिजाइन की रंग-बिरंगी राखियो से सजी है। जिससे दुकानदारों को अच्छी बिक्री की उम्मीद है। कोरोना के खौप के कारण होलसेल बाजार से ज्यादा माल नही खरीद पा रहे है। 

आस-पास कोरोना का मरीज मिलने के बाद तत्काल दुकाने बंद करवा दी जाती है। ऐसे में डर है, कही माल बिकने बिना न रह न जाए। नैनसिंह राजपुरोहित, महालक्ष्मी नोवेल्टी बोईसर

मैंने राखी के साथ भाई के अच्छे स्वास्थ्य के लिए कोरोना से बचाव के लिए सुरक्षा किट भी खरीदी है। जो भाई को मिठाइयों की जगह उपहार में दूंगी। जिससे वह इस महामारी में स्वस्थ्य रहे।

यह खबर भी पढ़े: OBC आरक्षण पर तेज हुई सियासत, CM शिवराज ने कमलनाथ के पत्र का दिया करारा जवाब

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान में सियासी गर्मी के बीच जैसलमेर की तपिश विधायकों में बढ़ा रही घबराहट

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended