संजीवनी टुडे

नौकरी दिलाने के बहाने पहले 10 युवकों को फ़साया, फिर ईट-भट्ठे पर लेजाकर करवाया ऐसा काम

संजीवनी टुडे 17-06-2019 20:18:48

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के एक गांव के दस युवकों को टावर में नौकरी दिलाने के बहाने मथुरा के ईट-भट्ठे पर 5 लाख रुपये में बेच दिया गया।


हमीरपुर। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले के एक गांव के दस युवकों को टावर में नौकरी दिलाने के बहाने मथुरा के ईट-भट्ठे पर 5 लाख रुपये में बेच दिया गया। इन सभी युवकों को ईट-भट्ठे पर बंधुआ मजदूर बना दिया गया है जिनसे भूखे पेट काम कराया जा रहा है। बंधक बने युवकों के परिजनों ने सोमवार को थाने में तहरीर दी जिस पर पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

जिले के सुमेरपुर थाना क्षेत्र के इंगोहटा गांव निवासी बारे खां, बुद्धू एवं ओमप्रकाश गिहार ने थाने में सोमवार को थाने में तहरीर देकर बताया कि सुमेरपुर कस्बा निवासी रघुवीर उर्फ बादशाह वर्मा, विजय निवासी धुंधपुर व गेंदालाल निवासी जलाला, 9 जून को गांव आये और गांव के ही पंकज, बच्चन, हन्नू, सबलू, संतराम, आकाश, इमाम, अमीरा मुस्ताक, रफीक को अपने साथ टावर में नौकरी दिलाने के बहाने ले गये। सभी युवकों को मथुरा जिले के कोसी कला के कोटवन गांव में बाबा ईट-भट्ठे पर पांच लाख रुपये में बेच दिया। परिजनों ने आरोप लगाया कि यहां पर सभी युवकों को बंधक बनाकर रखा गया है और भूखे पेट उनसे काम लिया जा रहा है। विरोध करने पर मारपीट की जा रही है। सभी युवकों से ईट-भट्ठे वाले ने मोबाइल फोन भी छीन लिया है ताकि यह लोग अपने परिवार को सूचना न दे सकें। 

घटना की तहरीर पर पुलिस हरकत में आ गयी और परिजनों की निशानदेही पर सुमेरपुर कस्बा निवासी रघुवीर उर्फ बादशाह वर्मा को घर से गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में इसने पुलिस को बताया कि इंगोहटा गांव के सभी दस युवकों को ईट-भट्ठे पर बेचा गया है। उसने पुलिस को ईट-भट्ठे का पता और ठिकाना भी बताया है। सुमेरपुर थाने के इंस्पेक्टर गिरेन्द्र पाल सिंह ने बताया कि बंधक बनाये गये सभी युवकों को मुक्त कराने के लिये थाने से एक पुलिस टीम गठित करके भेजी जा रही है। साथ ही मथुरा पुलिस से भी मदद मांगी गयी है। उन्होंने बताया कि धुंधपुर निवासी विजय तथा जलाला गांव निवासी गेंदालाल की भी तलाश की जा रही है।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended