संजीवनी टुडे

अंजुर में बनाया जा रहा है ठाणे का ऐतिहासिक अशोक स्तंभ

संजीवनी टुडे 21-03-2019 20:28:03


मुंबई | ठाणे शहर के कोर्ट नाका परिसर में स्थित ठाणे की नाक के रूप में प्रसिद्ध ऐतिहासिक अशोक स्तंभ की अब शीघ्र ही वापसी होगी | अशोक स्तंभ ठाणे जिले में भिवंडी के अंजुर स्थित एक कारखाने में बनाया जा रहा है | लगभग 35 वर्ष पूर्व एक ट्रक की टक्कर में यह ऐतिहासिक स्तंभ ढह गया गया था | 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

ठाणे शहर के भाजपा विधायक संजय केलकर के अथक प्रयासों के चलते ही प्रसिद्ध मूर्तिकार श्रेयस खानविलकर के द्वारा इस स्तंभ को बनाया जा रहा है | यह स्तंभ शीघ्र ही ठाणे के कोर्ट नाका परिसर की शोभा बढ़ाएगा | दरअसल ठाणे शहर में बाहर से आने वाले आगुन्तुकों के लिए यह स्तंभ एक मील का पत्थर माना जाता था | आज़ादी की लड़ाई के बाद यह स्तंभ स्वंत्रता संग्राम की निशानी के रूप में गिना जाता था | 

इस अशोक स्तंभ को ठाणे में सन 1952 में स्थापित किया गया था | ठाणे से जुड़े कई प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानियों के शौर्य को यह स्तंभ स्मरण करता था | विगत सन 1983 में एक तेज गति से आ रहे ट्रक की भीषण टक्कर के बाद यह स्तंभ पूरी तरह से ध्वस्त हो गया था | इसके बाद इसकी मौजदगी पर किसी ने ध्यान नहीं दिया था | ठाणे के विधायक संजय केलकर ने इस धरोहर को पुनः स्थापित करने का बीड़ा उठाया था | केलकर इसके पूर्व रेलवे के ऐतहासिक ठाणे स्टेशन परिसर में प्रथम भाप इंजिन को स्थापित करने के लिए भी रेलवे विभाग से लगातार संपर्क किया था | ठाणे शहर के प्राचीन टाउन हाल के नवीनीकरण का प्रस्ताव भी ठाणे जिला प्रशासन के समक्ष भी विधायक केलकर ही लेकर आये थे | अब इसी तरह अशोक स्तंभ के पुनः निर्माण के लिए भी बीजेपी विधायक केलकर ठाणे महानगर पालिका के आयुक्त संजीव जैसवाल के सतत संपर्क में थे | 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इस सम्बन्ध में जब विधायक संजय केलकर से संपर्क किया गया ,तब उन्होंने बताया कि ठाणे मनपा आयुक्त संजीव जैसवाल ने इसके निर्माण पर 60 लाख रुपये मंजूर किये हैं | लगभग 32 फुट उंचाई के इस स्तंभ का निर्माण लगभग पूर्ण हो चूका है | प्रसिद्ध मूर्तिकार नीलकंठ खानविलकर ने इसकी मूल कृति को ध्यान में रखकर ही इसे बनाया है | अब एक विशाल प्लेटफार्म के साथ यह पुनः अपने स्थान पर ठाणे शहर का गौरव बढ़ाएगा | 

More From state

Trending Now
Recommended