संजीवनी टुडे

स्वच्छशक्ति सम्मेलन लिखेगा प्रदेश में स्वच्छता की एक नई इबारत : सुभाष चंद्र

संजीवनी टुडे 13-02-2019 22:26:18


करनाल। स्वच्छ शक्ति सम्मेलन 2019 के सफल आयोजन और इसके जनमानस पर पड़ने वाले प्रभाव पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए स्वच्छ भारत मिशन के कार्यकारी वाईस चेयरमैन सुभाष चंद्र ने बुधवार को एक बातचीत में कहा कि आज देशभर में स्वच्छता की एक लहर चल रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वच्छ शक्ति सम्मेलन प्रदेश में स्वच्छता की एक नई इबारत लिखेगा और प्रधानमंत्री के संदेश से स्वच्छता अभियान को नई गति मिलेगी।सुभाष चंद्र ने कहा की जब से हरियाणा प्रदेश में स्वच्छ भारत मिशन की इकाई का गठन हुआ है तब से अब तक प्रदेश में काफी बदलाव आया है। स्वच्छता संदेश यात्रा हो अथवा सफाई कर्मचारी कार्यशाला लोगों की मानसिकता को बदलने का प्रयास निरंतर चलता रहा। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

उन्होंने कहा की स्वच्छता की इस मुहिम को अंजाम तक पहुंचाने में अब तक वे दो लाख किलोमीटर की यात्रा कर चुके हैं और पांच लाख लोगों से स्वच्छता संकल्प पत्र भरवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा स्वच्छता रैंकिंग में देश में अव्वल स्थान पर है। स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 में राज्य के 16 अन्य शहरों ने देश के 300 सबसे स्वच्छ शहरों में अपनी स्थिति को बेहतर किया है। उत्तर भारत में सर्वश्रेष्ठ कार्यों और शहरी नवीनीकरण की श्रेणी में नगर पालिका घरौंडा को स्वच्छ सर्वेक्षण में प्रथम स्थान मिला जो प्रदेश के आम आदमी की जागरुकता को दर्शाता है। उन्होंने उम्मीद जताई कि स्वच्छ शक्ति सम्मेलन के बाद प्रदेश भर में स्वच्छता के प्रति लोगों का नजरिया और बेहतर होगा और हरियाणा में एक नया बदलाव देखने को मिलेगा।

उन्होंने कहा कि करीब दो वर्ष पहले हरियाणा ने देश में सबसे पहले स्वच्छ भारत मिशन की इकाई का गठन किया जिसको आगे बढ़ाने की उन्हें जिम्मेदारी मिली। जब उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी तब प्रदेश के लोग इस अभियान के बारे में ज्यादा जागरूक नहीं थे। इसे अमल में लाना एक बड़ी चुनौती भी थी। मगर जब उन्होंने इस मुद्दे को देश व प्रदेश की आन बान शान के साथ जोड़ते हुए बताया कि इसके बिना हमारा जीवन और तरक्की अधूरी है तो सभी ने इसे खुले मन से स्वीकार किया। उन्होंने जिला, गांव, शहर के साथ छोटे मोहल्लों में जाकर देश के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहरलाल की स्वच्छता के प्रति प्रतिबद्धता और संकल्प के बारे जन-जन को बताया। 

इस कार्य में मुझे प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल और प्रशासनिक अधिकारियों का भरपूर सहयोग मिला। प्रदेश को ओ.डी.एफ. करने का मामला हो अथवा स्वच्छ सर्वेक्षण, हर बार हम पहले की अपेक्षा ऊपर बढ़ते गए। मुझे गर्व है की मेरे कार्यकाल में हरियाणा को ग्रामीण स्वच्छता के लिए देश का सर्वोच्च पुरस्कार मिला। स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2018 के अंतर्गत देश में सर्वोच्च स्थान पाने वाले छह जिलों में हरियाणा के तीन जिले गुरुग्राम, करनाल व रेवाड़ी भी शामिल रहे। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत हरियाणा के सभी ग्रामीण क्षेत्र जून 2017 तक ही खुले में शौचमुक्त किए जा चुके हैं। इसके बाद शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में ठोस व तरल कचरा प्रबंधन की योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं। वर्ष 2019 में हरियाणा के सभी गावों में ठोस व तरल कचरा प्रबंधन इकाइयां स्थापित किए जाने का लक्ष्य है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

कुरुक्षेत्र में आयोजित देश भर में अपनी तरह का पहले स्वच्छ शक्ति सम्मेलन की सफलता में जहाँ प्रशासनिक अमले का सहयोग रहा वहीं महिलाओं को समर्पित इस कार्यक्रम को यादगार बनाने में हरियाणा की सखियों ने कोई कसर नहीं छोड़ी। मिशन उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र ने बताया की इस कार्यक्रम में देश भर से लगभग साढ़े सात हजार महिला प्रतिनिधि तथा 15 हजार महिला पंच सरपंचों ने भाग लिया। इनके रहन सहन से लेकर भ्रमण तक में प्रदेश की महिलाओं ने दिन रात एक कर दिया। देश के विभिन्न कोनों से आयी महिलाओं को हरियाणा की संस्कृति से रूबरू कराने और उन्हे महिला हाकी नर्सरी,कल्पना चावला संग्रहालय,महिला थानों की विजिट भी करवाई। हरियाणा की सखियों ने दूसरे राज्यों की महिलाओं को न केवल नारंगी और हरी चूड़ियों से सजाया अपितु उन्हें स्वच्छता के लोगो वाली मेंहदी भी लगाई। 

 

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended