संजीवनी टुडे

मेरठ में बेअसर रहा सुप्रीम कोर्ट का आदेश, जमकर हुई आतिशबाजी

संजीवनी टुडे 08-11-2018 10:05:14


मेरठ। एनजीटी और सुप्रीम कोर्ट के आदेश दीपावली पर हवा हो गए| लोगों ने जमकर आतिशबाजी की। दिल्ली-एनसीआर में रात को आठ से दस बजे तक ही आतिशबाजी के आदेश के बाद भी लोगों ने आधी रात तक पटाखे चलाए। ग्रामीण क्षेत्रों में आतिशबाजी के कारण कई किसानों की चारे के लिए रखी धान की पराली में आग लग गई और उनका लाखों रुपये का नुकसान हो गया। 

सुप्रीम कोर्ट के ग्रीन पटाखे चलाने के आदेश के बाद से ही सोशल मीडिया और सामाजिक संगठनों द्वारा पटाखारहित दीपावली मनाने की मुहिम छेड़ी गई थी। लोगों ने भी इस पर खासी प्रतिक्रिया जाहिर की थी और पटाखे न चलाने की कसमें खाई थी। कोर्ट ने ग्रीन पटाखे जलाने के लिए भी रात्रि आठ से दस बजे का समय निर्धारित किया था। 

बुधवार को दीपावली पर दिल्ली-एनसीआर में इन आदेशों को धता बताते हुए लोगों ने जमकर आतिशबाजी की। शाम छह बजे से ही मेरठ समेत आसपास के जिलों में लोगों ने पटाखे चलाने शुरू कर दिए जो रात्रि 12 बजे के बाद तक चलते रहे। 

वातावरण में धुआं : आतिशबाजी होने से मेरठ समेत देहात के क्षेत्रों में भी धुआं फैल गया। इससे हवा बेहद खराब हो गई। धुएं के कारण लोगों को सांस लेने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। खासकर अस्थमा और दिल के रोगियों की हालत बिगड़ गई। 

आतिशबाजी के कारण कैली गांव में रामवीर द्वारा चारे के लिए रखी धान की पराली में आग लग गई। इसी तरह से सरधना क्षेत्र में कुशावली गांव में अनिल की पराली पटाखों की आग से जल गई। हस्तिनापुर के गणेशपुर गांव में अमित की धान की पराली में पटाखों से आग लग गई और उनका लाखों रुपये का नुकसान हो गया।

खूब बिके पटाखे, पुलिस नदारद : भले ही सुप्रीम कोर्ट ने पटाखों की बिक्री रोकने के आदेश दिए थे, लेकिन दीपावली पर खूब पटाखे बिके। गली-मोहल्ले के दुकानदारों ने अपने घरों में रखकर लोगों को पटाखे बेचे। जिसे रोकने में पुलिस पूरी तरह से नाकाम साबित हुई। पटाखों के दाम भी दुकानदारों ने मनमाने ढंग से वसूले। 

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

गोवर्धन पर सुबह शुरू हुई आतिशबाजी :गुरुवार को गोवर्धन पर भी लोगों ने सुबह से ही आतिशबाजी शुरू कर दी। खासकर जोरदार धमाका करने वाले पटाखों को खूब चलाया गया। इसके साथ ही फूलझड़ी, अनार बम, मुर्गाछाप पटाखों की जमकर आतिशाजी हुई।

sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended