संजीवनी टुडे

एसटीएफ ने किया 50 हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 12-09-2019 17:36:03

एसटीएफ ने पीलीभीत से 11 साल से फरार चल रहे 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश को गौतमबुद्धनगर जिले के बिसरख इलाके से गिरफ्तार कर लिया।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने पीलीभीत से 11 साल से फरार चल रहे 50 हजार रुपये के इनामी बदमाश को गौतमबुद्धनगर जिले के बिसरख इलाके से गिरफ्तार कर लिया।

एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजीव नारायण मिश्र ने ब़ृहस्पतिवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बुधवार रात एसटीएफ की नोएडा टीम ने वर्ष 2008 से वांछित चल रहे इनामी बदमाश राहुल उर्फ करूआ काे गौतमबुद्धनगर के बिसरख क्षेत्र के वैभव हेरिटेज हाइट सोसायटी के सामने से गिरफ्तार कर लिया। यह बदमाश बावरिया गिरोह का सक्रिय सदस्य है और राजस्थान के भरतपुर जिले का रहने वाला है। इस बदमाश के पास से एक तमंचा और कारतूस बरामद किए गये।

यह खबर भी पढ़ें: PM मोदी का कांग्रेस पर बड़ा हमला- कहा अभी तो यह ट्रेलर है, लूटने वालों को सही जगह पहुंचाने का चल रहा है काम

उन्होंने बताया कि इस बदमाश के खिलाफ उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के अलावा हरियाणा और मध्यप्रदेश में कई मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि यह बदमाश पीलीभीत जिले के सुनगढ़ी थाने में दर्ज गैंगेस्टर आदि के मामले में 2008 से फरार चल रहा था। इसकी गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम धोषित कर रखा था। इस बदमाश को पकड़ने के लिए एसटीएफ को लगाया गया था।

मिश्र ने बताया कि मुखबिर से बुधवार को नोएडा की एसटीएफ इकाई को सूचना मिली कि पीलीभीत से फरार घुमन्तू गिराेह का एक इनामी बदमाश राहुल उर्फ करूआ उर्फ कल्लु उर्फ मातिया उर्फ राेहित बिसरक इलाके में रोजा फाटक की ओर माेटर साइकिल से जाने वाला है। इस सूचना पर गौतमबुद्धनगर पुलिस के सहयाेग से बताये गये स्थान पर पहुंचकर घेराबंदी कर ली। बदमाश को रात 10.20 बजे गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया इनका गिरोह हरियाणा,मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश में लूट एवं चैन स्नैचिंग की घटनाओं काे अंजाम देता है।

यह खबर भी पढ़ें: मुजफ्फरपुर शेल्टर होम: आठ लड़कियों को घर भेजने का सुप्रीम कोर्ट का निर्देश

गिरफ्तार बदमाश ने बताया कि जहाॅ पर ये लोग जाते हैं अपनी पत्नियों काे भी साथ ले जाते है, जिससे पुलिस एवं लोगाें का गिरोह पर संदेह नहीं हो। इनकी पत्नियाॅ भीड-भाड वाले स्थानाें पर चैन काटने का काम करती हैं। बदमाश ने यह भी बताया कि वर्ष 2008 में उसकी बहन ममता पीलीभीत जिले के सुनगढ़ी इलाके के नाेगवाॅ पकडिया में रहती थी इसीलिए वह और अपने भांजे राकेश उर्फ उदन्ना के पास गया था। वहां ममता का भतीजा किशन भी मौजूद था।

इन सभी लोगों ने मिलकर वहाॅ लूट एवं चैन स्नैचिंग की की कई घटनाओं को अंजाम दिया था। इन घटनाओं के सिलसिले में सुनगढी थाने में गैंगेस्टर समेत कई मामले दर्ज हैं। पकड़े गये बदमाश को बिसरख थाने में दाखिल करा दिया गया है। आगे की कार्रवाई स्थानीय पुलिस करेगी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now