संजीवनी टुडे

पशु रोग नियंत्रण और नस्ल सुधार कार्यक्रम की शुरुआत

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 11-09-2019 18:24:46

पशु रोग नियंत्रण और नस्ल सुधार कार्यक्रम की शुरुआत


मथुरा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज यहां राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम , पशुओं में नस्ल सुधार के लिए सेक्स साटेड सिमेन , प्लास्टिक के खिलाफ स्वच्छता ही सेवा अभियान , नवाचार सेे जुड़े स्टार्ट अप ग्रांड चैलेंज के अलावा कई कन्य कार्यक्रमों की शुरुआत की ।

यह खबर भी पढ़े:  चंद्रयान..2 इसरो का ऐतिहासिक प्रयास: नामिरा सलीम

श्री मोदी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में इन योजनाओं एवं कार्यक्रमों की घोषणा की । इस अवसर पर केन्द्रीय पशुपालन , डेयरी और मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह भी उपस्थित थे ।

पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत पशुओं में मुंहपक खुरपक (एफएमडी) और ब्रुसोलासिस का टीकाकरण किया जायेगा । पांच साल यह अभियान चलेगा जिस पर केन्द्र सरकार 13343 करोड़ रुपये खर्च करेगी । इसके तहत साल में दोबार करीब 51 करोड़ पशुअों को टीका लगाया जायेगा । इन पशुओं में भेड़ , बकरी और सुअर को भी शामिल किया गया है ।

मुंहपक खुरपक बमारी से दुधारु जानवरों के दूध उत्पादन पर बुरा असर होता है कई बार इस बीमारी से पशुओं की मौत तक हो जाती है । इसके कारण कई देशों में डेयरी उत्पाद का निर्यात नहीं हो पाता है । ब्रुससोलासिस बीमारी से पशुओं में बांझपन की समस्या होती है और कई बार पशु मृत बच्चे को जन्म देता है । इन बीमारियों से सालाना 20 सें 30 हजार करोड़ रुपये मूल्य के नुकसान का अनुमान है ।

सेक्स साटेड सिमेंन के लिए आज से ही उत्तर प्रदेश के हापुड़ में एक केन्द्र कार्य करने लगा है । इसके तहत गाय में कृत्रिम गर्भाधान कराया जायेगा जिससे 90 प्रतिशत तक बछिया ही पैदा होगी। यह तकनीक पहले देश में नहीं थी ।

स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत प्लास्टिक के खिलाफ देश में अभियान चलाया जायेगा। इसके तहत स्थानीय लोग , गैर सरकारी संगठन तथा अन्य संगठन गांव गांव में प्लास्टिक कचरे को इकट्ठा करेंगे। इसके बाद उसका रिसाइकलिंग किया जायेगा और जिन कचरों का रिसाइकलिंग नहीं हो सकेगा उसका सीमेंट कारखानों या सड़क निर्माण में उपयोग किया जायेगा ।

स्टार्ट अप ग्रांड चैलेंज कार्यक्रम के तहत भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों के छात्रों को सहायता दी जायेगी । इसके तहत प्रधानमंत्री ने छात्रों से प्लास्टिक का सस्ता विकल्प ढूंढने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि 100 दिन के दौरान सरकार ने अभूतपूर्व काम किया है । उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल के दौरान दूध उत्पादन में सात प्रतिशत की तथा पशुपालकों की आय में 13 प्रतिशत की वृद्धि हुयी है ।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended