संजीवनी टुडे

राखी बाँधने पहुंची महिलाएं' शीर्षक के साथ प्रकाशित समाचार का SSP ने क‍िया खंडन, त्रुटिपूर्ण खबर के लिए न्‍यूज पोर्टल ने जताया खेद

संजीवनी टुडे 31-03-2020 21:37:03

कोरोना वैश्विक महामारी से बचने शासन-प्रशासन लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ा रही है। वहीं इसी बीच राजधानी में मंगलवार को सोशल मीडिया में एक ऐसी तस्वीर वायरल हुई जिसमें समूह में महिलाएं एक आईपीएस अफसर को राखी बांधती हुई दिखीं।


रायपुर। कोरोना वैश्विक महामारी से बचने शासन-प्रशासन लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पाठ पढ़ा रही है। वहीं इसी बीच राजधानी में मंगलवार को सोशल मीडिया में एक ऐसी तस्वीर वायरल हुई जिसमें समूह में महिलाएं एक आईपीएस अफसर को राखी बांधती हुई दिखीं।

इस खबर के प्रकाशित होने के बाद हड़कंप मच गया कि, कोरोना संक्रमण के दहशत भरे माहौल में लोगों के घरो से निकलने की पाबन्दी है तो एसएसपी बेसमय रक्षाबंधन कैसे मना रहे है, जिसके बाद एसएसपी ने इस खबर का खंडन करते हुए इसे फेक न्यूज बताया। 

एसएसपी आरिफ शेख ने कहा कि, फेक न्यूज चलाने पर संबंधित न्यूज पोर्टल के खिलाफ कड़ी क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने पत्रकारों से आह्वान किया कि, वे कृपया फेक न्यूज़ रोके।

इसके बाद उक्‍त न्‍यूज पोर्टल ने विशुद्ध रूप से त्रुटिवश प्रकाशित समाचार के ल‍िए गहरा खेद प्रकट किया। साथ ही उन्‍होंने दावा क‍िया है क‍ि, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ एच हुसैन अथवा पुलिस विभाग के प्रति किसी भी प्रकार की दुर्भावना नहीं है। यह खबर विशुद्ध रूप से त्रुटिवश प्रकाशित हुई है।  

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान/ कोरोना संकट में आगे आये कपड़ा कारोबारी, CM गहलोत को सौंपा एक करोड़ 12 लाख 51 हजार का चैक

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended