संजीवनी टुडे

सपा की मुस्लिम मतदाताओं के नाम काटने की शिकायत निकली गलत

संजीवनी टुडे 19-05-2019 16:31:38


लखनऊ। प्रदेश में मुगलसराय विधानसभा में कुछ बूथों पर मुस्लिम मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटाये जाने की समाजवादी पार्टी की शिकायत जांच में निराधार पायी गई है। चुनाव आयोग ने साफ किया है कि इन मतदाताओं का नाम चुनाव से पहले सामान्य प्रक्रिया तहत मतदाता सूची से हटाया गया है। 

समाजवादी पार्टी ने आज लोकसभा चुनाव के सातवें व अंतिम चरण के मतदान के दौरान शिकायत की थी कि लोकसभा चन्दौली की मुगलसराय विधानसभा में बूथ संख्या-334, 335, और 336 की वोटरलिस्ट में लगभग 300 मुस्लिम मतदाताओं के नामों पर ‘डिलीटेड’ की मुहर लगी है। पार्टी ने चुनाव आयोग से इसे संज्ञान में लेते हुए उचित कार्रवाई की मांग की थी।

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू की ओर से बताया गया कि मुगलसराय में सपा ने जिन तीन विशेष पोलिंग बूथों से मुस्लिम मतदाताओं के नाम हटाये जाने की शिकायत की, उसको तत्काल जांच करायी गई। इस संबंध में उप जिलाधिकारी चंदौली ने चुनाव आयोग को अवगत कराया कि पुनरीक्षण के दौरान मतदाताओं के घर-घर जाकर सर्वे किया गया था। ​इसके आधार पर अपात्र, मृतक, शिफ्टेड होने के कारण ही सम्बन्धित मतदाताओं के नाम सामान्य प्रक्रिया के तहत हटाये गये थे। 

 

 

Submitted By: Sanjay Singh Fartyal Edited By: Sanjay Singh Fartyal Published By: Sanjay Singh Fartyal at May 19 2019 4:00PM

इस चुनाव में देश-दुनिया की नजर वाराणसी पर लगी हुई है। यहां से  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दूसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं। 2014 में उन्होंने ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यहां से दूसरी बार निर्वाचित होना तय माना जा रहा है। तमाम राजनीतिक और चुनाव विश्लेषकों का भी यही अभिमत है। लोग यहां तक कह रहे हैं कि मतगणना तो औपचारिकता है। 23 मई को मतगणना परिणाम जीत के सारे रिकार्ड ध्वस्त कर देगा।  इस लोकसभा क्षेत्र में लगभग ढाई लाख ब्राह्मण और डेढ़ लाख भूमिहार मतदाता हैं। इन्हें भाजपा का पारंपरिक मतदाता माना जाता है। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में अपना दल के शामिल होने से करीब डेढ़ लाख कुर्मी मतदाता भी प्रधानमंत्री की ऐतिहासिक जीत के लिए आश्वस्त कर रहे हैं। वर्ष 2014 में यहां के लोकसभा चुनाव में अबतक की सबसे बड़ी जीत थी। बनारस में कुल 28 लाख 39 हजार 204 मतदाता हैं । इनमें 15 लाख 63 हजार 368 पुरुष,  12 लाख 75 हजार 695 और 141 थर्ड जेंडर हैं । यहां 1140 मतदान केन्द्रों में वोटिंग हो रही है।
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर पर भी लोगों की नजर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां कई बार जीते हैं। यहां भाजपा ने भोजपुरी अभिनेता रविकिशन को मैदान में उतारा है। गाजीपुर सीट से केन्द्रीय मंत्री मनोज सिन्हा का मुकाबला सपा-बसपा गठबंधन के अफजाल अंसारी से है। 

तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल के जाधवपुर से बांग्ला अभिनेत्री मिमी चक्रवर्ती को टिकट दिया है। उनके सामने भाजपा ने तृणमूल से बर्खास्त नेता अनुपम हाजरा को मैदान में उतारा है। बशीरहाट से अभिनेत्री नुसरत जहां का मुकाबला भाजपा के सायंतन बसु और कांग्रेस के काजी अब्दुर रहीम से है। पंजाब में गुरदासपुर से भाजपा के सनी देओल का मुकाबला कांग्रेस के सुनील जाखड़ से है। चंडीगढ़ में भाजपा की किरण का मुकाबला कांग्रेस के पवन बंसल और आम आदमी पार्टी के हरमोहन धवन से है। पटना साहिब पर मुकाबला दिलचस्प है। यहां केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के सामने शत्रुघ्न सिन्हा हैं। वह कांग्रेस से मैदान में हैं। पाटलिपुत्र में राजद प्रमुख की बड़ी बेटी मीसा भारती का मुकाबला भाजपा के रामकृपाल यादव से है। हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में भाजपा के अुनराग ठाकुर के खिलाफ कांग्रेस के रामलाल ठाकुर हैं। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

आखिरी चरण में उत्तर प्रदेश के महाराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगाव, घोसी, सलेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मीरजापुर, रॉबर्ट्सगंज, पंजाब के गुरदासपुर, अमृतसर, खादूर साहिब, जालंधर, होशियारपुर, आनंदपुर साहिब, लुधियाना, फतेहगढ़ साहिब, फरीदकोट, फिरोजपुर, भठिंडा, संगरूर, पटियाला, पश्चिम बंगाल के जयनगर, दमदम, बारासात, बशीरहाट, डायमंड हार्बर, मथुरापुर, कोलकाता दक्षिण, कोलकाता उत्तर, जाधवपुर, बिहार के पाटलिपुत्र, आरा, नालंदा, पटना साहिब, काराकट, जहानाबाद, बक्सर, सासाराम, मध्य प्रदेश के देवास, उज्जैन, मंदसौर, रतलाम, इंदौर, धार, खरगौन, खंडवा, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा, मंडी, हमीरपुर, शिमला, झारखंड के दुमका, गोड्डा और राजमहल के अलावा चंडीगढ़ में मतदान हो रहा है। इससे पहले छह चरणों में 484 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है। मतगणना 23 मई को होगी।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

More From state

Trending Now
Recommended