संजीवनी टुडे

राज्य का पहला लाल डोरा मुक्त गांव बना सिरसी, कर सकें सम्पत्तियों का क्रय-विक्रय

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 20-11-2019 20:07:37

मुख्यमंत्री ने राज्य के सभी गांवों को लाल डोरे से मुक्त करने की घोषणा की थी ताकि लाल डोरे के अंदर के प्लाटों और मकानों की रजिस्ट्री कराई जा सके और लोग अपनी सम्पत्तियों का क्रय-विक्रय कर सकें और गांवों में इस सम्बंध में होने वाले विवादों काे कम किया जा सके।


चंडीगढ़। सुशासन दिवस पर हरियाणा के करनाल जिले का सिरसी राज्य का पहला लाल डोरा मुक्त गांव बन गया है। यह निर्णय मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में आज यहां हुई एक समीक्षा बैठक में लिया गया। बैठक में मुख्यमंत्री ने राज्य में कृषि भूमि, निजी भूमि, सरकारी भूमि, शामलात या पंचायती समेत सभी प्रकार की भूमि की उसकी श्रेणी अनुसार टैगिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने पंचायत एवं विकास विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल को निर्देश दिए कि लाल डोरे के अंदर की ग्राम पंचायत की सम्पत्तियों का रिकॉर्ड का ब्यौरा सर्वेक्षण ऑफ इंडिया को उपलब्ध कराया जाये। बाद में ड्रोन द्वारा तैयार किए गए नक्शे के साथ मिलान करा कर ग्राम सभा से इसका मालिकाना अनुसार सत्यापित कराने के भी निर्देश दिये।

यह खबर भी पढ़ें: ​अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने पर कांग्रेस नेता को नोटिस, कार्रवाई करने की दी चेतावनी

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को हरियाणा के साथ लगते अन्य राज्यों की सीमाओं की निशानदेही भी सर्वेक्षण ऑफ इंडिया द्वारा तैयार किए गए नक्शों के अनुरूप सुलझाने के निर्देश दिये। उल्लेखनीय है कि एक नवम्बर, 2018 को मुख्यमंत्री ने राज्य के सभी गांवों को लाल डोरे से मुक्त करने की घोषणा की थी ताकि लाल डोरे के अंदर के प्लाटों और मकानों की रजिस्ट्री कराई जा सके और लोग अपनी सम्पत्तियों का क्रय-विक्रय कर सकें और गांवों में इस सम्बंध में होने वाले विवादों काे कम किया जा सके।

बैठक में उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, भारतीय सर्वेक्षण विभाग के महानिदेशक ले. जनरल गिरीश कुमार, मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा, मुुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended