संजीवनी टुडे

सिरोही-रेवदर का अपना इतिहास, पिंडवाड़ा में शिवसेना बिगाड़ रही खेल

संजीवनी टुडे 06-12-2018 19:46:06


सिरोही। जिले की तीन विधानसभा सीटों पर इस बार रोचक मुकाबला है। सिरोही में भाजपा के ओटाराम देवासी व कांग्रेस के जीवाराम के बीच कांग्रेस के बागी संयम लोढ़ा खेल बिगाडऩे को आतुर हो रहे हैं। इस सीट का इतिहास है कि यहां 1957 के बाद से कोई निर्दलीय चुनाव नहीं जीता है। रेवदर में कांग्रेस के नीरज डांगी व भाजपा के जगसीराम कोली के बीच सीधा मुकाबला है। भाजपा के जगसीराम इस सीट से लगातार तीन चुनाव जीतते आ रहे हैं। इस सीट का भी इतिहास है कि यहां से कोई प्रत्याशी चौथी बार चुनाव नहीं जीता है। पिंडवाड़ा-आबू सीट पर कांग्रेस के लालाराम व भाजपा के समाराम गरासिया के बीच सीधा मुकाबला हैं। शिवसेना के मगन गरासिया ने यहां भाजपा के लिए बड़ी दिक्कत पैदा कर रखी हैं। सिरोही सीट के चुनावी इतिहास में निर्दलीय प्रत्याशियों का कोई खास असर नहीं रहा है। यदि शुरुआती चुनावों को छोड़ दें तो इसके बाद कभी भी कोई निर्दलीय प्रत्याशी यहां से जीतकर विधानसभा नहीं पहुंचा। इस बार सिरोही विधानसभा क्षेत्र से सबसे अधिक सात निर्दलीय प्रत्याशी चुनावी मैदान में है। जबकि, पिंडवाड़ा से चार और रेवदर से एक निर्दलीय प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। तीनों सीटों पर चुनावी परिणाम किसके पक्ष में जाएंगे, इसका फैसला जनता करेगी। 
 
अब तक के अधिकांश चुनावों में सिरोही सीट से कांग्रेस या भाजपा को ही यहां से जीत मिली है। 2008 के विधानसभा चुनावों में तो दोनों ही दलों के प्रत्याशियों को छोडक़र शेष सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई थी। इनमें निर्दलीयों के साथ ही राजनीतिक दलों के प्रत्याशी भी शामिल थे। सिरोही विधानसभा क्षेत्र 1952 में अर्जुनसिंह निर्दलीय, 1952 में जवानसिंह निर्दलीय, 1957 में मोहब्बतसिंह कांग्रेस, 1962 में धर्माराम कांग्रेस, 1967 में मदनसिंह कांग्रेस, 1972 में शांतिलाल कांग्रेस, 1977 में रघुनंदन व्यास जेपी, 1980 में देवीसहाय गोपालिया आईएनसी आई, 1985 में रामलाल आईएनसी, 1990 में तारा भंडारी भाजपा, 1993 में तारा भंडारी भाजपा, 1998 में संयम लोढ़ा कांग्रेस, 2003 में संयम लोढ़ा कांग्रेस, 2008 में ओटाराम देवासी भाजपा तथा 2013 में ओटाराम देवासी भाजपा से जीते हैं।
पिंडवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से 1957 में दलपतसिंह निर्दलीय, 1962 में दलपतसिंह कांग्रेस, 1962 में रवि शंकर कांग्रेस, 1967 में गेमाराम कांग्रेस, 1972 में भूराराम कांग्रेस, 1977 में अलदाराम जेपी, 1980 में भूराराम आईएनसी आई, 1983 में सूरमाराम आईएनसी, 1985 में सूरमाराम आईएनसी, 1990 में प्रभुराम भाजपा, 1993 में प्रभुराम भाजपा, 1998 में लालाराम आईएनसी, 2003 में समाराम भाजपा, 2008 में गंगाबेन कांग्रेस तथा 2013 में समाराम भाजपा से चुनाव जीते हैं। इसी तरह रेवदर विधानसभा क्षेत्र से 1952 में मोहब्बतसिंह निर्दलीय, 1967 में मोतीलाल एसडब्ल्यूटी, 1972 में जेठमल आर्य कांग्रेस, 1977 में माधोसिंह कांग्रेस, 1980 में छोगाराम आईएनसी आई, 1985 में छोगाराम आईएनसी, 1990 में टीकमचंद कांत भाजपा, 1993 में जयंतीलाल भाजपा, 1998 में छोगाराम बाकोलिया कांग्रेस, 2003 में जगसीराम कोली भाजपा, 2008 में जगसीराम कोली भाजपा, 2013 में जगसीराम कोली भाजपा से चुनाव जीते थे। 

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314166166
MUST WATCH & SUBSCRIBE

 
इस बार कौन-कहां से जता रहा दावेदारी: सिरोही विधानसभा क्षेत्र : असलम खान, कालूराम, तेजराज सोलंकी, भैराराम बरार, संयम लोढ़ा, हंजाराम और त्रिकमाराम निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। पिंडवाड़ा विधानसभा क्षेत्र : कपूराराम मीणा, केसरमल, रताराम और रेवत कुमार समेत कुल चार प्रत्याशी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं।
रेवदर विधानसभा क्षेत्र : इस सीट पर केवल एक प्रत्याशी नारायणलाल निर्दलीय चुनावी मैदान में हैं। अन्य तीन निर्दलीयों ने अपना नामांकन वापस ले लिया था।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended