संजीवनी टुडे

रक्षाबंधन पर होगा श्रावणी उपाकर्म, गायत्री शक्तिपीठ ब्रह्मपुरी में मुख्य आयोजन

संजीवनी टुडे 12-08-2019 22:02:28

रक्षाबंधन के दिन छोटीकाशी में विभिन्न स्थानों पर श्रावणी उपाकर्म होंगे।


जयपुर। रक्षाबंधन के दिन छोटीकाशी में विभिन्न स्थानों पर श्रावणी उपाकर्म होंगे। गलताजी, जल महल, मावठा, सागर में बड़ी संख्या में जनेऊधारी हेमाद्री संकल्प कर देव,ऋषि, दिव्य पुरुष, पितृ का स्मरण करते हुए उनके निमित्त तर्पण कर पुरानी जनेऊ उतारकर नवीन जनेऊ धारण करेंगे। इसके बाद एक-दूसरे के रक्षाबंधन करेंगे। कई स्थानों पर पौधारोपण भी किया जाएगा। गायत्री शक्तिपीठ ब्रह्मपुरी में सुबह सात बजे सामूहिक श्रावणी उपाकर्म होंगे।

राखी प्यार के ही नहीं, शक्ति के धागें

साधक सर्वप्रथम हेमाद्रि संकल्प कर भस्म, मिट्टी, गोबर, गो-मूत्र, दुग्ध, दधि, धृत, हल्दी, कुश और मधु का लेप कर वेद मंत्रोच्चार के साथ जल से स्नान करेंगे। उल्लेखनीय है कि श्रावणी उपाकर्म एक वैदिक कर्म है। लोग वर्षभर के मन, वचन और कर्म से किए पापों का प्रायश्चित करते हंै। किसी तीर्थ पर या किसी भी नदी, सरोवर पर जाकर हेमाद्रि संकल्प के साथ दशविधि स्नान करके संध्या वंदन और तर्पण करते है। स्नान के बाद अंत: शुद्धि के लिए पंचगव्य ग्रहण किया जाता है। ऋषियों का पूजन-तर्पण किया जाता है तथा नूतन यज्ञोपवीत धारण करके गुरु का पूजन करके आशीर्वाद लिया जाता है। 

ब्राह्मणत्व का संबंध जाति से नहीं:
अखिल विश्व गायत्री परिवार राजस्थान जोन के प्रभारी अम्बिका प्रसाद श्रीवास्तवभारतीय संस्कृति में द्विजत्व और ब्राह्मणत्व का संबंध किसी जाति या वर्ग विशेष में जन्म लेने से नहीं है, बल्कि वह साधना की उच्च कक्षा से जुड़े संबोधन हैं। इसीलिए संस्कारों से द्विजत्व की प्राप्ति की बात कही जाती रही है। संगीत के द्वार सभी के लिए खुले हैं, किन्तु संगीताचार्य अपनी बारीकियां उन्हीं के सामने खोलते हैं, जिनकी संगीत साधना उच्च स्तरीय हो गई है।

खेल सभी खेल सकते हैं किन्तु खेल प्रशिक्षक खेल तकनीक की बारीकियां उसी को समझाता है जिनके कौशल और दमखम की साधना उच्च स्तरीय है। जिसकी साधना विकसित नहीं हुई है उसे आगे की बात बताने से बतलाने वाले का प्रयास निरर्थक तो जाता ही है, कई बार उसका विपरीत प्रभाव भी भोगना पड़ जाता है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended