संजीवनी टुडे

तीन हजार का 'आईफोन' दिखाकर सात लाख ठगने वाला गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 11-06-2019 17:25:58

उत्तरी जिले की साइबर सेल ने क्विकर पर तीन हजार रुपये में आईफोन का लालच देकर सात लाख रुपये ठगने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने फर्जी कंपनी की पॉलिसी के नाम पर हिंदू राव अस्पताल के लैब टेक्नीशियन से सात लाख रुपये ठगे थे।


नई दिल्ली। उत्तरी जिले की साइबर सेल ने क्विकर पर ‘तीन हजार रुपये में आईफोन’ का लालच देकर सात लाख रुपये ठगने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों ने फर्जी कंपनी की पॉलिसी के नाम पर हिंदू राव अस्पताल के लैब टेक्नीशियन से सात लाख रुपये ठगे थे। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार आरोपितों की पहचान गाजियाबाद निवासी सचिन(27) और अवधेश(22) के रूप में हुई। दोनों को डीयू के नॉर्थ कैंपस के पास से गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के दौरान आरोपित सचिन बीए की परीक्षा देने के लिए आया था। 

पुलिस के अनुसार समीर रावत नाम के व्यक्ति ने तीन दिन पूर्व सात लाख रुपये की ठगी की शिकायत दी थी, जिसमें बताया कि उन्होंने क्विकर पर एक विज्ञापन देखा था, जिसमें तीन हजार रुपये में आईफोन बिक रहा था। उन्होंने खरीदने की इच्छा जताई, जिसके बाद अलग-अलग बहाने से आरोपितों ने उनसे सात लाख रुपये ठगे। आरोपितों ने इस कदर उनको अपने जाल में फंसाया कि समीर पैसे देने से इनकार नहीं कर पाया। हालांकि ठगी के बाद सब्जी मंडी पुलिस ने केस दर्ज किया।

इधर साइबर सेल ने जांच में मोबाइल नंबर की जांच की तो वह फर्जी निकला। इसके बाद उन बैंक अकाउंट को खंगाला गया, जिसमें समीर ने पैसे डाले थे। पता चला कि ज्यादातर बैंक अकाउंट का कोई सुराग नहीं है लेकिन एक अकाउंट का ट्रेल पुलिस को मिल गया। आरोपितों ने एक बैंक के अधिकृत सेंटर से जाकर रुपये निकाले थे, जहां पहुंचने पर पुलिस को आरोपितों का मोबाइल नंबर मिल गया। 

इसी बीच पुलिस को पता चला कि सोमवार को आरोपित डीयू में परीक्षा देने आने वाला है। पुलिस ने सोमवार शाम को नॉर्थ कैंपस में जाल बिछाकर शाम के समय दोनों आरोपितों को पकड़ लिया। आरोपितों के पास सात स्मार्ट फोन, 12 फेक सिम कार्ड और आठ डेबिट कार्ड बरामद हुए हैं।

मात्र 220000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314188188

More From state

Trending Now