संजीवनी टुडे

चार करोड़ की कीमत के दो मुंह वाले सर्प सहित सात गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 16-03-2019 18:35:18


प्रयागराज। शंकरगढ़ पुलिस ने शनिवार को प्रतिबन्धित वन्य जीवों की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए सात तस्करों को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से दो मुंह वाले सर्प को बरामद किया। इसकी अन्तरराष्ट्रीय बाजार में कीमत चार करोड़ रुपये बताई जा रही है। तस्करों के कब्जे से एक कार भी बरामद हुई है।

गिरोह का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने बताया कि वन्य जीवों की तस्करी के मामले में पकड़े गए आरोपितों में जंगल घोरठ-कुशीनगर निवासी शाबिर अंसारी, मलाक-सोरांव प्रयागराज निवासी कार चालक अजीत मौर्य, कपारी-शंकरगढ़ निवासी बृजेशनाथ, कपारी-शंकरगढ़ निवासी जन्हीनाथ, जेपी नगर-सुलेमसराय धूमनगंज निवासी संजय सिंह, उमरपुर नींवा-धूमनगंज निवासी आशुतोष कुशवाहा और कमालपुर-गाजीपुर निवासी राजेश कुमार शामिल हैं। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

पुलिस उपाधीक्षक यमुनापार दीपेन्द्र चौधरी ने बताया कि पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि दो मुंह वाले सर्प की प्रजाति में कैंसर रोग से लड़ने की क्षमता अधिक होती है। इनका उपयोग विदेशों में दवा बनाने का उपयोग होता है। इसकी विदेशों में कीमत अधिक होती है। यहां भले ही पचास लाख में बिक जाता होगा लेकिन अन्तरराष्ट्रीय बाजार में वजन के हिसाब से इसकी कीमत चार करोड़ की होगी। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

शंकरगढ़ थाने की पुलिस ने जब गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार किया तो सबसे पहले डीएफओ को सूचना दी गई। वह मौके पर पहुंचे और उसके सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया कि दो मुंह वाले सर्प का उपयोग कैंसर रोग की दवा बनाने में किया जाता है। इससे इसकी मांग विदेश में बहुत है। इस प्रजाति के सर्प यहां अधिक पाए जाते हैं। सभी आरोपितों को जेल भेज दिया गया है। 

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended