संजीवनी टुडे

योगी सरकार में अब सहारनपुर मंडल के है चार मंत्री

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 21-08-2019 17:45:56

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के बुधवार को हुए पहले मंत्रिमंडल विस्तार में सहारनपुर मंडल के दो और विधायकों को मंत्री बनाये जाने के बाद अब यहां से चार मंत्री हो गए हैं।


सहारनपुर। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के बुधवार को हुए पहले मंत्रिमंडल विस्तार में सहारनपुर मंडल के दो और विधायकों को मंत्री बनाये जाने के बाद अब यहां से चार मंत्री हो गए हैं। सहारनपुर मंडल में सामाजिक एवं जातीय संतुलन को साधने का काम करते हुए भाजपा नेतृत्व ने मंडल के शामली जिले के थाना भवन क्षेत्र के विधायक ठाकुर सुरेश राणा जो गन्ना राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे का दर्जा बढ़ाकर उन्हें कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलाई गई। इससे पहले राणा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे। 

देवबंद क्षेत्र के कस्बा नानौता निवासी और मुजफ्फरनगर जिले की चरथावल विधान सभा क्षेत्र के विधायक संघ के कार्यकर्ता विजय कश्यप को राज्यमंत्री और मुजफ्फरनगर शहर के युवा विधायक कपिल देव अग्रवाल को राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया है। अग्रवाल मुजफ्फरनगर के चेयरमैन भी रह चुके हैं। अग्रवाल वैश्य बिरादरी के सम्मानित और प्रभावशाली शख्सियतों में शुमार हैं। 

यह खबर भी पढ़े: वायुसेना का ट्रक का पहाड़ी से गिरने पर तीन जवानों की मौत

अग्रवाल को स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री के रूप में योगी मंत्रिमंडल में शामिल किया गया। पिछले दिनों मुख्यमंत्री की सुखतीर्थ यात्रा के दौरान कपिल देव अग्रवाल को मुख्यमंत्री ने काफी महत्व दिया था। मुजफ्फरनगर सदर सीट से विधायक एवं अखिलेश यादव सरकार के मंत्री चितरंजन स्वरुप के अगस्त 2015 में निधन के बाद फरवरी 2016 में हुए उपचुनाव में कपिल देव अग्रवाल पहली बार मुजफ्फरनगर से विधायक चुने गये थे। उसके बाद 2017 में अग्रवाल दूसरी बार इसी सीट से विधायक चुने गये। अग्रवाल लम्बे समय तक पत्रकारिता से भी जुडे रहे। 

सहारनपुर की नकुड़ विधानसभा सीट के विधायक डा. धर्मसिंह सैनी पहले से ही योगी सरकार में राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार) के साथ मौजूद हैं। हालांकि उनका दर्जा भी बढाकर काबिना दर्जा किए जाने की चर्चाएं थीं। मई में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कैराना लोकसभा सीट भाजपा ने जीती थी। नकुड़ क्षेत्र में भाजपा सांसद प्रदीप चौधरी पिछड गये थे लेकिन उनकी जीत में थानाभवन से विधायक एवं गन्ना मंत्री सुरेश राणा की भी अहम भूमिका रही थी। 

यह खबर भी पढ़े: INX मीडिया केस: राहुल- प्रियंका ने मोदी सरकार पर बोला तीखा हमला, ऐसे किया चिदंबरम का बचाव

इस जीत के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राणा की हर मौके पर सार्वजनिक रूप से तारीफ की थी। सुरेश राणा के रूप में भाजपा को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक ताकतवर और बड़ा चेहरा मिल गया हैं। वह योगी आदित्यनाथ के साथ साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के भी बेहद करीबी हैं। लोकसभा चुनाव में सुरेश राणा को सहारनपुर लोकसभा सीट का संयोजक बनाया गया था।

सहारनपुर मंडल के मुजफ्फरनगर जिले में सभी पांच विधायक भाजपा के हैं, जिनमें से दो को मंत्री बना दिया गया है। शामली जिले में भाजपा के तीन में से दो विधायक हैं, जिनमें से सुरेश राणा को काबिना दर्जा का मंत्री बनाया गया है। सहारनपुर जिले में भाजपा के पास सात में से चार विधायक हैं जिनमें से एक डा. धर्मसिंह सैनी पहले से ही मंत्री हैं।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

गंगौह विधानसभा सीट रिक्त चल रही है। जहां का उपचुनाव दो माह में होने वाला है। देवबंद के विधायक कुंवर बृजेश सिंह भी मंत्री बनने की जद्दोजहद में लगे थे। सहारनपुर मंडल में जो चार मंत्री योगी सरकार में हैं उनमें से दो स्वर्ण जाति के जबकि दो पिछड़ा वर्ग से हैं।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended