संजीवनी टुडे

मातम में बदली खुशियां, बेटी की डोली से पहले उठी मां की अर्थी, जानिए पूरा मामला

संजीवनी टुडे 11-07-2019 12:18:33

फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र में बुधवार को देर रात बेटी की शादी की खुशियां मातम में बदल गईं। बेटी की डोली उठने से पहले गुरुवार को मां की अर्थी उठ गई।


फर्रुखाबाद। फतेहगढ़ कोतवाली क्षेत्र में बुधवार को देर रात बेटी की शादी की खुशियां मातम में बदल गईं। बेटी की डोली उठने से पहले गुरुवार को मां की अर्थी उठ गई। चंद घण्टों में दुल्हन बनने जा रही अंजली हाथों में मेंहदी लगाए ठगी सी रह गई। 

कोतवाली फतेहगढ़ के मोहल्ला नेकपुर कला निवासी राजमिस्त्री विनोद कुमार जाटव की पुत्री अंजली (20) की बारात बुधवार की रात आयी थी। विवाह कायमगंज कोतवाली के ग्राम रजलामई निवासी रामवीर पुत्र जबरलाल के साथ होना था। 

बारात आने के बाद खुशी खुशी में द्वारचार की रस्म अदा की गई। कुछ ही देर में बेटी के हाथ पीले करने के लिए अंजली की मां मीरा देवी (40) भाग दौड़ में लगी हुई थी। रात के दो बजे शहनाई की ध्वनि आंगन में गूंजने लगी। अंजली को शादी का जोड़ा पहना कर तैयार किया जा रहा था। महिलाएं खुशी में मंगल गीत गा रहीं थीं। 

????

इसी दौरान कुछ सामान लेने मीरा देवी अंदर गई और पंखे से टकरा गई। पंखे में करंट उतरने से उसकी चपेट में आकर मीरा देवी की मौके पर ही मौत हो गई। दुल्हन की मां की मौत होते ही शादी की खुशियां मातम में बदल गईं। शहनाई की गूंज की जगह चीख पुकार मच गई। कुछ ही समय बाद दुल्हन बनने जा रही अंजली अपनी मां के शव को देखकर बेसुध हो गई। 

गम के माहौल में अंजली की शादी की तैयारियों की जगह मां की अर्थी उठाने की तैयारी होने लगी। गुरुवार की सुबह मीना की शव यात्रा गंगा तट घटिया घाट के लिए रवाना हुई। अंजली के पिता विनोद कुमार ने बताया कि टेंट हाउस के पंखे में करंट की वजह से पत्नी की मौत हुई है। बेटी की डोली उठने से पहले उसकी पत्नी की अर्थी उठ गई। वहीं सूचना पर पहुंचे चौकी इंचार्ज अभय सिंह ने जांच पड़ताल की। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 4300/- गज, अजमेर रोड (NH-8) जयपुर में 7230012256

bhggd

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended