संजीवनी टुडे

घर-घर पानी पहुंचाने का संकल्प, मगर एक-एक बूंद का उपयोग जरूरी : शेखावत

संजीवनी टुडे 22-06-2019 16:53:51

केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने कहा कि पूरे देश में घर-घर पानी को पहुंचाने के संकल्प पर हम कार्य कर रहे हैं।


जोधपुर। केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने कहा कि पूरे देश में घर-घर पानी को पहुंचाने के संकल्प पर हम कार्य कर रहे हैं। इसके लिए हमें पानी की एक-एक बूंद का उपयोग तथा वर्षा जल संग्रहण के उपायों को भी अपनाने की जरूरत है।

केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री शनिवार को जोधपुर जिले के नारवां खिचियान गांव में श्रमदान एवं संवाद कार्यक्रम में संवर्धन और स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अंतर्गत आयोजित सभा को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विश्व की 17 प्रतिशत आबादी भारत में हैं तथा पानी 4 प्रतिशत है। इसके लिए पानी की एक-एक बूंद का उपयोग हो तथा इस दिशा में हमने सशक्त रूप से कार्य भी प्रारंभ कर दिया है। प्रधानमंत्री के संकल्प कि देश के घर-घर तक पानी पहुंचाने का है। 

उन्होंने देश के ढाई लाख सरपंचों से वर्षा जल संग्रहण कर अधिकाधिक उपयोग होने का आग्रह किया है। इसके अलावा वाटर हार्वेसि्टंग कर, वर्षा के जल को संग्रहित करके तथा सीवरलाईनों व गंदे पानी से भूमि को उपजाऊ नहीं होने की समस्या से निजात दिलाने उसको उपयोगी बनाने की तकनीक से पानी की उपयोगिता को बढ़ाना है। उन्होंने बताया कि पांडीचेरी, सिक्किम में 90 प्रतिशत घरों तक तथा गुजरात में 80 प्रतिशत घरों तक पानी पहुंचा है। इन प्रदेशों की तरह ही अन्य राज्यों में भी घर-घर तक पानी पहुंचाने के प्रभारी प्रयास किए जाएंगे।

नौ करोड़ शौचालय बने: शेखावत ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम के अंतर्गत पिछले 5 सालों में देश में 9 करोड़ शौचालय बने हैं। घर-घर में शौचालय बनने से देश में ‘बिहेविचयर चेंज’ का सबसे बड़ा काम हुआ है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार केवल खुले में शौच जाने के कारण 3 लाख लोग कीटाणुजनित रोगों से मर रहे थे जो पिछले सालों में घटकर अब केवल 1 लाख संख्या रह गई है। इस कीटाणुजनित बीमारी पर हर घर में 50 हजार रूपए खर्च हो रहे है। अब 32 करोड़ परिवारों में 50 हजार रूपए प्रति प्रतिवार में बीमारी खर्च नहीं हो रहा है और इससे देश को 500 प्रतिशत का लाभा हुआ है। 

बेस लाइन सर्वे जारी: शेखावत ने बताया कि हमने ओडीएफ  के लिए बहुत प्रयास किए तथा बेस लाईन सर्वे के तहत अब जो बचे हैं उनकी जिलावार सूचिया मांगी गई है। इसके अनुसार शेष बचे परिवारों को भी ओडीएफ कर दिया जाएगा। उन्होंने नारवां गांव में दिए गए ज्ञापनों में मांग की चर्चा की तथा बताया कि मेघवालों की ढाणी में बिजली की लाईन दुरस्त करवाने मगरे के बीच में पानी के रिजर्व वायर बनाने की मांग पर सर्वे करवा फिजिबल होने पर आदि कार्य शीघ्र करवा दिए जाएंगे। 

इस अवसर पर केन्द्रीय जल शक्ति मंत्रालय के संयुक्त सचिव समीर कुमार तथा राज्य में स्वच्छ भारत के मिशन डाइरेक्टर पी.के. किशन ने भी आवश्यक जानकारियां प्रदान की। आरंभ में जिला प्रमुख पूनाराम चौधरी ने स्वागत किया तथा नारवां खिचियान के सरपंच उम्मेदसिंह ने आभार व्यक्त किया।

इन सरपंचों को सौंपे प्रधानमंत्री के पत्र
केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने इस अवसर पर सरपंचों के पप्पुराम, बलदेवसिंह, महेन्द्रसिंह, उम्मेदसिंह, जयनारायण सांखला, प्रतापसिंह, हनुमानाराम, भोपाराम एवं कानाराम को जल संग्रहण एवं बचत के महत्व पर प्रधानमंत्री के पत्रों को सौंपा। समारोह में सीईओ जिला परिषद अंशदीप, एडीएम (द्वितीय) महिपाल कुमार सहित विभिन्न सरपंच, प्रशासनिक अधिकारी एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने नारवां खिचियान पहुंचने ही स्वच्छ भारत मिशन के तहत मॉडल शौचालय का उद्घाटन किया। यह मॉडल शौचालय आईईसी योजना के तहत बनाया गया है।

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166 

More From state

Trending Now
Recommended