संजीवनी टुडे

रांची देश का नंबर वन स्मार्ट सिटी बने : सीपी सिंह

संजीवनी टुडे 20-07-2019 17:59:03

झारखंड के नगर विकास एवं आवास मंत्री सीपी सिंह ने शनिवार को रांची के धुर्वा क्षेत्र में 656.3 एकड़ जमीन पर विकसित हो रहे रांची स्मार्ट सिटी परिसर में निर्माणाधीन परियोजनाओं का निरीक्षण किया।


रांची। झारखंड के नगर विकास एवं आवास मंत्री सीपी सिंह ने शनिवार को रांची के धुर्वा क्षेत्र में 656.3 एकड़ जमीन पर विकसित हो रहे रांची स्मार्ट सिटी परिसर में निर्माणाधीन परियोजनाओं का निरीक्षण किया। मंत्री ने इसके साथ ही अधिकारियों को कई सुझाव और आवश्यक निर्देश भी दिए।

उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि देशभर के स्मार्ट शहरों में रांची अग्रणी पंक्ति में खड़ी है। हम चाहते हैं कि रांची देश का नंबर वन स्मार्ट सिटी बने। इसके लिए जरूरी है कि समय पर गुणवता के साथ कार्य पूरे हों। उन्होंने निर्माणाधीन स्मार्ट सिटी की हरियाली पर भी विशेष जोर दिया और कहा कि सड़कों के किनारे एक प्रकार के पेड़ लगाएं, जिससे हरियाली भी रहेगी और शहर सुंदर भी लगेगा।

मंत्री ने निर्माणाधीन झारखंड अर्बन प्लानिंग मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट (जुपमी), कन्वेंशन सेंटर और अर्बन सिविक टावर का भी निरीक्षण किया। इस मौके पर मंत्री ने नवम्बर 2019 से पहले जुपमी के निर्माण कार्य को पूरा करने का निर्देश दिया। वहीं दूसरी कंपनियों को भी समय पर गुणवत्ता के साथ कार्य पूरा करने का निर्देश दिया गया। 

सिंह ने कहा कि किसी भी निर्माण कार्य में गुणवता में कोई समझौता बर्दाश्त नहीं होगा। भवनों में सुरक्षा मानकों का पूरा ख्याल रखा जाये। सड़कों के निर्माण में भी अव्वल दर्जे के मैटेरियल का इस्तेमाल करें। परिसर हरा-भरा रहे इसका पूरा ख्याल रखें और अधिक से अधिक पौधारोपण करें। यदि 24 माह में कार्य पूरा करना है तो 20 माह का लक्ष्य रखें।

इन भवनों के निर्माण कार्य का जायजा लेने के बाद मंत्री ने पूरे परिसर के लिए बिजली आपूर्ति, पेयजलापूर्ति, गैस पाइप लाईन सप्लाई, सिवरेज ड्रेनेज निर्माण, ऑप्टिकल फाइवर लाइन, रिसाइकल वाटर्, सड़क, साइकिल लेन, स्मार्ट स्ट्रीट लाइट और अन्य जरुरी संसाधनों को स्थापित करनेवाली कंपनी एलएंडटी की तैयारियों का भी जायजा लिया। इस मौके पर एलएंडटी की ओर से पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए ये बताया गया कि किस प्रकार से इंटीग्रेटेड इन्फ्रास्ट्रक्चर का विकास होना है। इसके लिए 469.6 करोड़ रुपया खर्च होगा। 

उल्लेखनीय है कि स्मार्ट सिटी में मुख्य मार्ग कुल लगभग 21 किमी होगा। जिसमें 16 किमी मार्ग चार लेन का होगा। रोड के किनारे यूटिलिटी सर्विसेज की भी लाइन साथ-साथ होगी। वैसे तो स्मार्ट सिटी परियोजना में पैन सिटी प्रोजेक्ट के तहत वेंडर मार्केट, पब्लिक बाइसिकल शेयरिंग सिस्टम और कमांड कंट्रोल कम्यूनिकेशन सेंटर सहित कई योजना पूरे शहर के लिए है।

साढ़े सात एकड़ जमीन में बन रहे जुपमी में अर्बन प्लानिंग मैनेजमेंट की पढ़ाई होगी। अर्बन प्लानिंग के क्षेत्र में कैरियर के इच्छुक युवओं को मिलेगा मौका, नगर विकास विभाग व यूएलबी में कार्यरत कर्मी व जन प्रतिनिधियों को भी योजना व क्रियान्वयन की जानकारी दी जाएगी। 

इस कैंपस में हॉस्टल, स्टाफ क्वार्टर्स इत्यादि मौजूद रहेगा। मंत्री को जब बताया गया कि इसके संचालन के लिए विश्व के सौ टॉप विश्वविद्यालयों से संपर्क किया गया है तो उन्होंने खुशी जाहिर की। कन्वेन्शन सेंटर में पांच हजार लोग एकबार किसी कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। उनके लिए गेस्ट रूम और अतिरिक्त हॉल व गाड़ियों के पार्किंग की व्यवस्था रहेगी।

अधिकारियों ने मंत्री को बताया कि इस इलाके में लोगों को निर्बाध बिजली मिले इसके लिए जीआईएस सब स्टेशन का निर्माण चल रहा है। इसके साथ ही चार अन्य पावर स्टेशन का निर्माण होगा। यही नहीं अपना पाइप लाइन वाटर सप्लाई सिस्टम होगा, जो इसी साल नवंबर तक कार्य पूर्ण हो जाएगा। सड़कों के किनारे बड़ी संख्या में पेड़ लगेंगे। 

मंत्री ने परिसर में पौधरोपण भी किया। इस मौके पर जुडको के परियोजना निदेशक (तकनीकी) राजीव कुमार बासुदेवा, जुडको के जीएम बीके रॉय, स्मार्ट सिटी के जीएम राकेश कुमार नंदक्योलियार के साथ-साथ बड़ी संख्या में अधिकारी मौजूद थे।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

sssdsdd

More From state

Trending Now
Recommended