संजीवनी टुडे

राजस्थान/ सात संकल्पों के साथ नए राज्य की परिकल्पना, मुख्यमंत्री गहलोत ने गिनाए बजट के सात संकल्प

संजीवनी टुडे 20-02-2020 18:32:07

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा के पटल पर आम बजट वर्ष 2021-21 रखते हुए सात संकल्प के जरिए नए राजस्थान बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने आम बजट प्रस्तुत करते हुए बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, शुद्ध पेयजल, रोजगार, पर्यटन पर फोकस किया।



जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा के पटल पर आम बजट वर्ष 2021-21 रखते हुए सात संकल्प के जरिए नए राजस्थान बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने आम बजट प्रस्तुत करते हुए बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, शुद्ध पेयजल, रोजगार, पर्यटन पर फोकस किया। बजट में मुख्यमंत्री ने खुशहाल राजस्थान और स्वस्थ राजस्थान का विजन दिखाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन सब योजनाओं के लिए निवेश और संसाधन कहां से जुटाएं जाएंगे, बजट में इसकी तस्वीर साफ नहीं हो पाई है। मुख्यमंत्री ने कोई नया कर नहीं लगा कर आम जनता को राहत दी है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सबसे पहला संकल्प बेहतर स्वास्थ्य की तरफ रखा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि निरोगी राजस्थान सरकार की सबसे बड़ा ध्येय है। इसके लिए निरोगी राजस्थान का संकल्प लेते हुए सरकार इस अभियान की शुरूआत करती है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए 100 करोड़ का निरोगी राजस्थान प्रबंधन कोष के गठन की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 15 नए मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों में एक हजार बेड बढाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य के लिए सरकार मिलावटखोरी के खिलाफ सख्त कदम उठाएगी, इसके लिए उन्होंने अलग से ऑथोरिटी बनाने की घोषणा की। हर जिले में जांच के लिए एक लैब की स्थापना के साथ के साथ फास्ट ट्रेक कोर्ट बनाने की घोषणा की। इसके अलावा प्रदेश में अजमेर और जोधपुर में राजकीय होम्योपैथिक महाविद्यालय स्थापित करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सीकर में आयुष चिकित्सालय की बनाया जाएगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दूसरे संकल्प संपन्न किसान के तहत कृषक वर्ग को राहत देने के लिए कई घोषणाएं की है। सीएम ने 100 कस्टम हायरिंग केन्द्रों की स्थापना की घोषणा की। इस पर करीब 8 करोड़ खर्च किए जाएंगे। किसानों को 25 हजार सोलर पम्पों देने की घोषणा की। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया कि तीसरे संकल्प के तहत महिला और बाल  विकास कल्याण के लिए एक हजार करोड़ रुपए की इंदिरा गांधी महिला शक्ति निधि के माध्यम महिला सशक्तीकरण की प्रभावी पहल की  गई है। मुख्यमंत्री ने आशा सहयोगिनी के लिए ए -3 एप विकतिस करने की घोषणा की। इसके साथ सदन में राजस्थान राज्य आर्थिक पिछड़ा वर्ग आयोग के गठन की घोषणा की। 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सक्षम मजदूर, छात्र युवा जवान का चौथा संकल्प लेते हुए फिट- राजस्थान हिट राजस्थान का का लक्ष्य घोषित किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पेश बजट में ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता को तीन करोड़, सिल्वर मेडल विजेता को दो करोड़ और ब्रॉन्ज मेडल विजेता को एक करोड़ रुपए देने की घोषणा की. वहीं एशियन गेम्स विजेताओं के नकद पुरस्कारों की घोषणा की। इसके साथ टीएसपी  एरिया में कौशल विकास केंद्र विस्तारीकरण में 5000 युवाओं को कौशल प्रशिक्षण देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने औद्वोगिक विकास के लिए सिंगल विंडो एक्ट को प्रभावी बनाने के लिए अब वन स्टॉप शॉप प्रणाली स्थापित करने का निर्णय लिया। जयपुर के सीतापुरा में 25000 करोड़ की लागत से होगा प्लग एंड प्ले फैस्ल्टी विकसित करने की घोषणा की। वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जयपुर में 1 करोड़ की लागत से खादी प्लाजा के स्थापना की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने पेट्रोलियम और रिफाइनरी को लेकर अपने लिए संकल्प के तहत बाड़मेर और पचपदरा में प्रशिक्षण देने के लिए कौशल केन्द्र खोले जाने की बात कही और वहीं 1456 ग्राम पंचायतों में और पंचायत समितियों में नए सरकारी भवनों का खोलने की घोषणा की।

सीएम गहलोत ने पांचवा संकल्प शिक्षा का परिधान का लिया। राजस्थान में नवाचार करते हुए सरकारी विद्यालयों में शनिवार को नो बैग डे की घोषणा की। इस दिन स्कूलों में कोई अध्यापन नहीं होगा। इस दिन पेरेंट्स टीचर मीटिंग, खेलकूद और सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे, ताकि स्कूलों में हैप्पीनेस इंडेक्स बढ सके। वहीं जयपुर के प्रतापनगर में काेचिग हब सेंटर बनाने की घोषणा की। 

मुख्यमंत्री ने छठा संकल्प पानी बिजली सड़कों का मान का लिया। सीएम ने कहा कि प्रत्येक घर में जल जीवन मिशन योजना के तहत हर घर में स्वच्छ जल उपलब्ध करवाने की घोषणा की। मुख्मयंत्री ने कहा कि जयपुर शहर में पेयजल सप्लाई को सुधारा जाएगा। पुरानी जर्जर लाइन बदली जाएगी। मुख्यमंत्री ने सार्वजनिक निमाण विभाग में आगामी वित्तीय साल तक कुल 6 हजार 808 करोड़ 63 लाख रुपये का प्रावधान किया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में सड़क दुर्घटना में घायल हुए व्यक्ति का पास के निजी अस्पताल में तत्काल इलाज मिले इसके लिए प्रावधान सख्त किए जाएंगे। ऐसे व्यक्ति का इलाज नहीं करने पर अस्पताल में बड़ी कार्रवाई होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरी क्षेत्रो में सीवरेज की सफाई अब मशीनों से होगी। 

मुख्यमंत्री ने सातवां संकल्प  लेते हुए कौशल एवं तकनीकी प्रधान क्षेत्र के लिए कहा कि 229 राजकीय आईटीआई ई क्लास रूम के माध्यम से गुणवतापूर्ण शिक्षा प्रशिक्षण देने की घोषणा की वहीं युवाओं में कौशल विकास के लिए मुख्यमंत्री कौशल मार्गदर्शन योजना प्रांरभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने अपने बजट भाषण में पर्यटन पर फोकस करते हुए 100 करोड़ के पर्यटन विकास कोष की भी घोषणा की।

कर्मचारी वर्ग को किया खु्शः  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने तोहफा देते हुए महंगाई भत्ता (डीए) बढ़ाने की घोषणा की है। सीएम ने कर्मचारियों का डीए 12 फीसदी से बढ़ाकर 17 फीसदी करने की घोषणा की है। कर्मचारियों और पेंशनर्स को बढ़ा हुआ डीए 1 जुलाई 2019 से मिलेगा। इसका लाभ लाखों कर्मचारियों को मिलेगा। 

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान/ नागौर में दलितों के उत्पीड़न पर मायावती ने प्रभावी कार्रवाई की मांग की, बताया बेहद शर्मनाक

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended