संजीवनी टुडे

अशोकनगर में बारिश बनी आफत, कई गांवों में घुसा बेतवा का पानी

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 13-09-2019 21:35:37

मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में बीते पांच दिनों से जारी बारिश अब बड़ी आफत बनती जा रही है।


अशोकनगर। मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में बीते पांच दिनों से जारी बारिश अब बड़ी आफत बनती जा रही है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान जिले में दो इंच बारिश हुई। इससे सभी नदियां उफान पर आ गईं। हालात यह हैं कि बेतवा नदी का पानी किनारे से पांच किमी दूर के क्षेत्रों में बहने लगा है।

यह खबर भी पढ़े: संत रविदास मंदिर मामला: सुप्रीम कोर्ट अब 16 सितंबर को करेगा सुनवाई

खेतों में बाढ़ का पानी भरने से पांच हजार हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्र की फसल पानी में डूब गई और 10 गांव पानी में घिर गए। अशोकनगर-मुंगावली रोड पर नेशनल हाईवे का पुल दिनभर डूबा रहा, वहीं चन्देरी-ललितपुर के बीच बने पुल के 20 फ़ीट ऊपर पानी बहता रहा। इससे सागर, बीना, ललितपुर, विदिशा, भोपाल सहित जिले के सभी रास्ते बंद हो गए है। उफान पर आई बेतवा और कैंथन नदी ने मुंगावली ब्लॉक के सांवलहेड़ा, भेड़का, किरोला, सेमरखेड़ी, बिल्हेरू, बाढ़ौली, निटर्र, ढि़चरी सहित कई गांवों को घेर लिया।

वहीं सांवलहेड़ा में निचले क्षेत्र में स्थित 20 घरों में पानी भर गया, गांव के पूर्व सरंपच बृजभानसिंह ने बताया कि ग्रामीणों को दूसरे लोगों के घरों पर शरण लेना पड़ी। कंजिया पुल से चार फिट ऊपर बेतवा का पानी बहने से नदी पांच किमी क्षेत्र में फैल गई और भोपाल गांव से ही रास्ता बंद हो गया। वहीं कैंथन और मोला नदी के उफान पर आने से बहादुरपुर में भी कई घरों में पानी भर गया, लोगों को घर खाली कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया।

वहीं अन्य नदियों के उफान से कई अन्य गांवों में भी घरों में पानी भरने और फसलें डूबने की खबर है। इसके अलावा बहादुरपुर में कैंथन नदी का पुल डूबने से एक दर्जन गांव का रास्ता बंद हो गया। कैंथन व मोला नदी के एक साथ उफान पर आने से बहादुरपुर में नेशनल हाईवे के पुल से सुबह साढ़े सात बजे चार फिट ऊपर पानी बहने, इससे नेशनल हाईवे दिनभर बंद रहा। 

बेतवा नदी के उफान से कंजिया पुल के चार फिट ऊपर तक पानी बहता रहा और सागर-बीना मार्ग बंद रहा। वहीं राजघाट बांध के 16 गेटों से पानी छोडऩे से उत्तर प्रदेश- मध्यप्रदेश को जोड़ने वाले पुल के 20 फिट ऊपर से पानी बहता रहा। इसके अलावा मल्हारगढ़, पिपरई, तूमैन, सहित अन्य रास्ते भी दिनभर बंद रहे।

जिले के बरखेड़ाछज्जू बांध के गेटों में जंग आ जाने से गेट खुल नहीं पाए। इससे बरखेड़ाछज्जू गांव में घरों में पानी भर गया। ग्रामीणों के मुताबिक करीब 20 घरों में घुटनों तक पानी भरा हुआ है और घरों को पानी ने घेर लिया है, लेकिन सूचना देने के बाद भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचे। खेत भी पानी से डूब गए। इससे ग्रामीणों का गृहस्थी का सामान भी खराब हो गया और अब उन्हें पानी के बीच ही जागकर रात गुजारना पड़ेगी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended