संजीवनी टुडे

सिंधिया के खिलाफ दुष्प्रचार महंगा पड़ा, रिंकू छह वर्ष के लिए निष्कासित

संजीवनी टुडे 29-04-2019 17:20:40


ग्वालियर। नगर पालिका मुरैना के पूर्व उपाध्यक्ष रिंकू मावई को प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ दुष्प्रचार के मामले में छह वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया है। सोमवार को निष्कासन की सूचना ग्वालियर और मुरैना कांग्रेस दोनों को भेजी गई है।

तीन दिन पहले ओहदपुर में कांग्रेस नेता साहब सिंह गुर्जर के यहां पार्टी की मीटिंग बुलाई गई थी। इस मीटिंग में लोकसभा उम्मीदवार अशोक सिंह भी मौजूद थे। इसी दौरान मुरैना के पूर्व विधायक सोबरन सिंह मावई के बेटे रिंकू मावई ने सिंधिया का नाम लिए बिना काफी भला बुरा कहा था। रिंकू का कहना था कि दिल्ली में बैठकर एक कांग्रेस नेता ग्वालियर में पार्टी को हराने का काम करता रहा है। रिंकू का ऑडियो और वीडियो दोनों जैसे ही वायरल हुए कांग्रेस में सिंधिया समर्थकों में आग लग गई। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

उन्होंने दूसरे दिन ही रिंकू के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर दी थी। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सोमवार को रिंकू मावई के खिलाफ एक्शन लिया और उसे छह वर्ष के लिए पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया। चुनाव के मौके पर इस कार्रवाई को ग्वालियर और मुरैना दोनों जगह पार्टी के लिए नुकसानदेह बताया जा रहा है। पार्टी के महामंत्री चन्द्रप्रभाष शेखर ने इस एक्शन की सूचना ग्वालियर-मुरैना दोनों जगह भेज दी है।

MUST WATCH &SUBSCRIBE 

कांग्रेस में गुटबाजी चरम पर : मालूम हो कि ओहदपुर में मीटिंग बुलाने वाला साहब सिंह गुर्जर विधानसभा चुनाव के पहले तक ज्योतिरादित्य सिंधिया का भक्त रहा है, लेकिन जब टिकट नहीं मिला तो वह बसपा से लड़ बैठा और कांग्रेस को हरवा दिया। साहब को अब सिंधिया ने लिफ्ट नहीं दी तो दिग्विजय सिंह ने पार्टी में शामिल करा दिया था। तब से ही साहब सिंह की हर गतिविधि सिंधिया विरोधी दिख रही है।

More From state

Trending Now
Recommended