संजीवनी टुडे

कोटा सेंट्रल जेल में कैदी की मौत

संजीवनी टुडे 12-07-2019 17:10:49

कोटा की खुली जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी की शुक्रवार सुबह मौत हो गई।


कोटा। कोटा की खुली जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे कैदी की शुक्रवार सुबह मौत हो गई। मृतक कैदी अपने ही चचेरे भाई की हत्या के मामले में जेल में बंद था। 

पुलिस के अनुसार लाखेरी थाना क्षेत्र के जाडला गांव निवासी चौथमल (50) पुत्र मोतीलाल को 4 अक्टूबर 2007 को लाखेरी बूंदी एडीजे 2 ने हत्या के मामले में उम्र कैद की सजा सुनाई थी। चौथमल ने उसके चचेरे भाई हंसराज की लाठियों से पीट कर हत्या कर दी थी। जिसके बाद चौथमल को बूंदी जेल ओर उसके बाद अजमेर, गंगापुर ओर उसके बाद 17 जून 2015 को कोटा में कैदी को खुली जेल में लाया गया। 

जेल में शुक्रवार सुबह अचानक तबियत खराब होने से मौत हो गई। जेल सुप्रिटेंडेड श्रवण लाल ने बताया कि कैदी चौथमल टीवी की बीमारी से पीड़ित था। जिसकी सुबह अचानक तबियत बिगड़ जाने पर उसे एबीएस अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना परिजनों को दी गई। परिजनों के आने के बाद मृतक कैदी का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। 

मृतक कैदी चौथमल के बेटे राजेन्द्र ने बताया कि बुधवार को जेल में पिता से बात हुई समय तक ठीक ठाक था। सुबह जेल से सूचना मिली कि उनके पिताजी का बीमारी के चलते मौत हो गई। कैदी को बचाने के चक्कर में जेल सुप्रिटेंडेड घायल हो गया। 

सजा काट रहे कैदी चौथमल की अचानक तबियत खराब होने की सूचना जेल डिप्टी सुप्रीटेंडेड श्रवण लाल को मिली तो घबराये हुए भागते हुए अपने कक्ष से बाहर निकले, अचानक उनका पैर फिसल गया और घायल हो गए। जेल कर्मियों के द्वारा उनको अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने जांच की माइनर फेक्चर बताया। उनका ईलाज जारी है।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

bhggd

More From state

Trending Now
Recommended