संजीवनी टुडे

सेंट्रल जेल में हत्यारोपी कैदी ने लगाई फांसी

संजीवनी टुडे 26-04-2019 21:16:48


कोलकाता। अमूमन सवालों के घेरे में रहने वाली पश्चिम बंगाल की जेलों में सुरक्षा व्यवस्था भगवान भरोसे है। इसका ताजा संकेत कोलकाता के सबसे सुरक्षित मानी जाने वाली प्रेसिडेंसी सेंट्रल जेल में एक कैदी के फांसी लगाने के बाद मिला है। घटना गुरुवार रात की है लेकिन शुक्रवार शाम इस बारे में खुलासा हुआ है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

बताया गया है कि हेस्टिंग्स थाना इलाके में स्थित प्रेसिडेंसी सेंट्रल जेल में हत्या के आरोप में विचाराधीन कैदी महाराज हलदर (36 साल) को बंदी बनाकर रखा गया था। वह मूल रूप से दक्षिण 24 परगना जिले के रायदिघी थाना अंतर्गत मथुरापुर का निवासी था। तबीयत खराब होने की वजह से उसे जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां रात के समय उसने गमछे के सहारे खिड़की के रॉड से फांसी लगा ली। सूचना मिलने के तुरंत बाद सुरक्षाकर्मी दौड़े हुए मौके पर पहुंचे और उसे उतारकर चिकित्सकों से जांच कराया। पता चला कि उसकी मौत हो गई है। 

शुक्रवार शाम जेल प्रबंधन की ओर से बताया गया है कि इकबालपुर थाना इलाके में वर्ष 2016 के दौरान हत्या के एक वारदात में वह आरोपित था और इस मामले में न्यायालय में सुनवाई चल रही है। इस घटना ने एक बार फिर जेल प्रशासन की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर दिया है। जेल अस्पताल के अंदर एक कैदी बेड से उठकर खिड़की के सहारे गमछा बांधता है और खुद को उससे फांसी लगा लेता है। 

MUST WATCH &SUBSCRIBE 

मौत होने तक वह फंदे पर लटका रहता है लेकिन किसी को कानों-कान खबर तक नहीं लगती। इससे साफ हो चला है कि किस तरह से कोलकाता में जेलों की सुरक्षा में कोताही बरती जा रही है। इसी तरह पिछले साल अलीपुर सेंट्रल जेल से बांग्लादेश के तीन खूंखार कैदी दीवार फांद कर भागने में सफल रहे थे और उन्हें आज तक नहीं पकड़ा जा सका है।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended