संजीवनी टुडे

आश्रम में बच्चों से दुर्व्यवहार के मामले में विवादास्पद धर्मगुरू नित्यानंद को भी ढूंढेगी पुलिस

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 19-11-2019 20:45:07

विवादास्पद धर्मगुरू नित्यानंद के यहां स्थित आश्रम और स्कूल में कथित तौर पर बच्चों से दुर्व्यवहार के मामले की जांच कर रही पुलिस ने आज कहा कि जरूरत पड़ने पर यह नित्यानंद को भी ढूढेंगी।


अहमदाबाद। विवादास्पद धर्मगुरू नित्यानंद के यहां स्थित आश्रम और स्कूल में कथित तौर पर बच्चों से दुर्व्यवहार के मामले की जांच कर रही पुलिस ने आज कहा कि जरूरत पड़ने पर यह नित्यानंद को भी ढूढेंगी। हालांकि पुलिस ने कहा कि आश्रम से जुड़ी दो बालिग बहनों के कथित तौर पर उनके माता पिता से नहीं मिलने के मामले में वह कुछ नहीं कर सकती।

यह खबर भी पढ़ें: ​तीन दशक पहले स्वतंत्र हुए इस देश की प्रति व्यक्ति आय भारत से है 60 गुना अधिक, जानें विस्तृत विवरण

ज्ञातव्य है कि नित्यानंद के पूर्व अनुयायी रहे तमिलनाडु निवासी जर्नादन शर्मा ने गत एक नवंबर को पुलिस के समक्ष यहां गुहार लगायी थी कि उनकी तीन बेटियों और एक पुत्र को आश्रम ने जबरन अपने पास रखा है और उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा। इसके बाद हाल में पुलिस ने उनकी तीसरी नाबालिग पुत्री और उससे भी छोटे बेटे को यहां हाथीजन इलाके में दिल्ली पब्लिक स्कूल की जमीन पर बने आश्रम स्कूल से बाहर निकाल कर उनको सौंप दिया। 

पर विदेश में रह रही बड़ी बेटी लोपा मुद्रा और यहां के आश्रम से जुड़ी दूसरी बेटी नित्यानंदिता ने अपने माता पिता से मिलने से इंकार कर दिया। दोनो ने अपने ही माता पिता पर कई तरह के गंभीर आरोप भी लगाये। श्री शर्मा ने हाई कोर्ट में एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर दोनो को अदालत के समक्ष लाने की गुहार लगायी है जिस पर कल सुनवाई होने की संभावना है।

इस बीच, अहमदाबाद के ग्राम्य पुलिस अधीक्षक आर वी असारी ने यूएनआई वार्ता से आज कहा कि शर्मा के दोनो नाबालिग बच्चों से कथित दुर्व्यवहार की जांच की जा रही है। पहले से आपराधिक मामले से जुड़े विवादास्पद नित्यानंद के ठिकाने का फिलहाल पता नहीं है। जांच में जरूरत पड़ी तो उसे ढूंढा जायेगा। बड़ी लड़की लोपामुद्रा तो कर्नाटक आश्रम से विदेश गयी है इसलिए उससे यहां की पुलिस का कोई लेना देना नहीं है और चूकि दूसरी बालिग बेटी नित्यानंदिता ने माता पिता के साथ नहीं रहने की इच्छा जतायी है इसलिए पुलिस उसके साथ कोई जबरदस्ती नहीं कर सकती। 

उन्होेंने स्पष्ट किया कि आश्रम प्रकरण की जांच के लिए कोई एसआईटी नहीं बनायी गयी है। उधर, नित्यानंद ने आज एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया। इसमेें उन्हें मीडिया पर परोक्ष दोषारोपण करते हुए सुना जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended