संजीवनी टुडे

शहीदों को श्रद्धांजलि रैली पर पाकिस्तान परस्तों का हमला, कई घायल

संजीवनी टुडे 17-02-2019 21:53:47


कोलकाता। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 44 जवानों की शहादत को लेकर एक तरफ जहां पूरे देश में गुस्से का माहौल है, वहीं पश्चिम बंगाल में कुछ ऐसे भी अराजक तत्व हैं जो खुशी मना रहे हैं। हद तो तब हो गई जब रविवार अपराह्न हुगली जिले के श्रीरामपुर थाना क्षेत्र में स्थानीय लोगों ने शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए मोमबत्ती रैली निकाली और इस पर पाकिस्तान परस्त लोगों ने हमला कर दिया। इससे यह साबित होता है कि राज्य में देश विरोधी ताकतें सक्रिय हैं। 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया है कि हुगली जिले के श्रीरामपुर थानांतर्गत राज्यधरपुर ग्राम पंचायत क्षेत्र में शहीदों की श्रद्धांजलि देने के लिए सैकड़ों लोगों ने मोमबत्ती रैली निकाली थी। इसकी शुरुआत से ही लोग पाकिस्तान मुर्दाबाद, भारत माता की जय, वंदे मातरम, शहीद जवान अमर रहे आदि के नारे लगा रहे थे। आरोप है कि जैसे ही यह रैली मिलिक बादाम तल्ला इलाके में पहुंची, नारा सुनते ही यहां के अल्पसंख्यक समुदाय के लोग एकजुट होकर हमला कर दिया। इसके बाद रैली में शामिल सैकड़ों लोगों और हमलावरों के बीच हिंसक झड़प शुरू हो गई जिसमें कई लोग घायल हो गए। इस दौरान कई वाहनों और दुकानों में तोड़फोड़ की गई है। इस घटना को लेकर इलाके में तनाव व्याप्त है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

विषम हालात को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बलों को तैनात किया गया है। हालात को संभालने के लिए अलीगढ़ जिला पुलिस को रैपिड एक्शन फोर्स की तैनाती करनी पड़ी। हालात को काबू में करने के लिए चंदननगर पुलिस कमिश्नरेट के नवनियुक्त पुलिस आयुक्त अखिलेश चतुर्वेदी, डीसीपी वैभव तिवारी, एडीसीपी अमलन घोष दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। फिलहाल, स्थिति नियंत्रण में है। इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया। पुलिस इलाके में गश्त लगा रही है। किसी की गिरफ्तारी की कोई सूचना नहीं है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उल्लेखनीय है कि शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए शनिवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मोमबत्ती लेकर सड़क पर उतरी थीं। उनके निर्देश पर तृणमूल कांग्रेस की ओर से रविवार को पूरे राज्य में श्रद्धांजलि कार्यक्रम आयोजित किया गया है। इस बीच हुगली जिले की घटना ने राज्य में देश विरोधी ताकतों के बढ़े हुए मनोबल को उजागर कर दिया है। एक दिन पहले ही जिले के भदेश्वर जूट मिल के एक सुपरवाइजर ने भी पुलवामा की घटना में शहीद जवानों की शहादत को अपमानित करते हुए कहा था कि और अधिक जवानों को मारा जाना चाहिए। इसके बाद वहां भी हालात बिगड़ गए थे। बड़ी संख्या में मौके पर पहुंची पुलिस ने हालात को संभाला था। 

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended