संजीवनी टुडे

पंडितों ने मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ कराया पूर्ण

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 08-12-2019 12:26:21

खरगोन जिला मुख्यालय स्थित 287 वर्ष प्राचीन बाकी माता मंदिर में 12 पंडितों ने हाईटेक होते हुए धार्मिक ग्रंथों की बजाय मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ पूर्ण कराया।


भोपाल। मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय स्थित 287 वर्ष प्राचीन 'बाकी माता मंदिर' में 12 पंडितों ने हाईटेक होते हुए धार्मिक ग्रंथों की बजाय मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ पूर्ण कराया।

खरगोन के सराफा गली में स्थित बाकी माता मंदिर में शनिवार को शतचंडी महायज्ञ की पूर्णाहुति संपन्न हुई तथा नौ देवियों को छप्पन भोग का अर्पण कर प्रसाद वितरण हुआ। आचार्य सुधीर परसाई ने बताया कि उनके युवा शिष्य हाईटेक हो चुके हैं और उन्होंने विभिन्न धार्मिक ग्रंथों और पोथियों की बजाए सुविधाजनक मोबाइल ऐप का उपयोग कर विभिन्न पूजा-पाठ व आवाह्न संपन्न कराए।

यह खबर भी पढ़ें:​ हर शुक्रवार फिल्म इंडस्ट्री में आपका भविष्य तय करता है जो बहुत ही दुखभरी बात है: यामी

उन्होंने 508 पन्नों के ग्रंथ, जो कि 'पीडीएफ फॉर्मेट' में था, की मदद से विभिन्न प्रक्रियाएं पूर्ण कराई। पंडित वैभव भट्ट ,पंकज शर्मा और प्रशांत मोरे ने बताया कि इस दौरान उन्होंने धार्मिक ग्रंथ भी अपने साथ रखे लेकिन टच स्क्रीन मोबाइल और मोबाइल ऐप की सहायता से अनुष्ठान पूर्ण करने में आसानी रही।

बाकी माता मंदिर पंडित भट्टमभट्ट द्वारा 1732 में स्थापित किया गया था और पिछले 150 वर्षों में पहली बार यहां शतचंडी महायज्ञ का सात दिवसीय आयोजन किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended