संजीवनी टुडे

पंचायत सरकार भवन निर्माण में धांधली, जांच की मांग

संजीवनी टुडे 03-07-2019 16:53:17

ज्य सरकार द्वारा वर्ष 2006 में नया पंचायती राज अधिनियम लागू होने के बाद प्रत्येक पंचायत में पंचायत सरकार भवन निर्माण कराने का निर्णय लिया गया था ।


सहरसा। राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2006 में नया पंचायती राज अधिनियम लागू होने के बाद प्रत्येक पंचायत में पंचायत सरकार भवन निर्माण कराने का निर्णय लिया गया था । सरकार का उद्देश्य था कि पंचायत की जनता का अधिकांश कार्य पंचायत में ही हो। 

इस निर्णय के तहत कई पंचायतों में पंचायत सरकार भवन का निर्माण कार्य पूरा हो गया। कई पंचायतों में निर्माण कार्य जारी भी है। वर्तमान समय में निर्माणाधीन पंचायत सरकार भवन का प्राक्कलन करीब 1 करोड़ 38 लाख रुपये का होना बताया गया है । जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड में दो पंचायत सरकार भवन रायपुरा तथा मोहनपुर पंचायत में बनकर तैयार हैं । खम्हौती व तरियामा पंचायत में निर्माण कार्य जारी है। 

ग्रामीणों के अनुसार तरियामा पंचायत की  वार्ड संख्या 06 में निर्माणाधीन भवन कार्य में प्राक्कलन की धज्जियां उड़ायी जा रही हैं । निर्माण कार्य की सार्वजनिक जानकारी के लिए स्थल पर अब तक कोई बोर्ड नहीं  लगाया गया है। कार्य स्थल पर न तो संवेदक रहते हैं एवं न ही विभागीय अभियंता। मुंशी व मजदूर के भरोसे निर्माण कार्य किया जा रहा है। ग्रामीण व सामाजिक कार्यकर्ता जयचन्द कुमार ने जिलाधिकारी शैलजा शर्मा से मिल आवेदन देकर निर्माण कार्य में बड़े  पैमाने पर अनियमितता का खुलासा किया है । 

आवेदन में कहा है कि निर्माणाधीन कार्य में तीन नंबर ईंट तथा निम्न स्तर सीमेंट का प्रयोग किया जा रहा है । इतना ही नहीं  प्रथम तल की ढलाई की उंचाई भी दो फीट कम की  गयी  है। ग्रामीण द्वारा प्राक्कलन मांगने तथा घटिया कार्य का विरोध किये किये जाने पर उन्हें संगीन मामले में फंसा देने की धमकी भी दी जाती है। 

श्री कुमार ने घटिया निर्माण पर भविष्य में भवन गिरने की आशंका को लेकर जिलाधिकारी से जांच कर कार्रवाई करने की मांग की। जिलाधिकारी ने इसकी जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

hgyy

More From state

Trending Now
Recommended