संजीवनी टुडे

दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहे संविदा कर्मचारी, चरमरा गईं स्वास्थ्य सेवाएं

संजीवनी टुडे 22-01-2019 22:12:19


लखीमपुर खीरी। उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ की दूसरे दिन भी हड़ताल जारी रही। अपनी मांगों पर अड़े संविदा कर्मचारियों ने अपने कार्य से विरत रहकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। संविदा कर्मचारी प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर 21 जनवरी 2019 से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। इस हड़ताल को राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने अपना पूर्ण समर्थन दिया है। संविदा कर्मचारियों की हड़ताल के कारण स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई हैं।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

मंगलवार की सुबह से ही सैकड़ों की संख्या में एनएचएम के अंतर्गत तैनात कर्मचारियों ने अपने कार्यों से विरत रहकर सरकार के खिलाफ अपनी मांगों को न माने जाने से नाराज होकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान अपने संबोधन में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष महंत सिंह ने कहा कि आज जो संविदा कर्मचारी विभाग में तैनात हैं उनका शोषण शासन व प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। आज जो संविदा कर्मचारी हड़ताल पर हैं, उनकी समस्त मांगे जायज हैं, इसलिए राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की प्रदेश कार्यकारिणी ने इसे अपना समर्थन दिया है। इस दौरान आरएनटीसीपी के अध्यक्ष अवधेश पटेल ने अपने संबोधन में कहा कि सरकार हमारी जायज मांगों को मानने में हीला हवाली कर रही है, यही कारण है कि आज संविदा कर्मचारियों को मजबूरन हड़ताल करनी पड़ी है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

जिला अध्यक्ष एनएचएम संघ विकास श्रीवास्तव ने अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश कार्यकारिणी के आह्वान पर चल रही हड़ताल तभी समाप्त होगी, जब प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा दिए गए ज्ञापन की समस्त मांगें पूर्ण हो जाएंगी। महामंत्री देवेंद्र पांडे ने कहा कि हमारी सभी मांगें जायज है, ऐसे में अगर सरकार इन्हें पूरा नहीं करेगी, तो संविदा कर्मचारी अपनी हड़ताल समाप्त नहीं करेंगे। इस दौरान कोषाध्यक्ष विजय वर्मा ने भी कर्मचारियों से एकजुट होकर अपने हक के लिए खड़े रहने की अपील की और कहा कि सरकार अगर हमारी मांगे नहीं मानेगी तो संविदा कर्मचारी प्रदेश नेतृत्व में हड़ताल पर रहेंगे।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended